वाराणसी: पति-पत्नी ने दोनों बच्चों की गला दबाकर की हत्या, फिर खुद फंदे से झूल कर ली सुसाइड

परिवार के मुखिया चेतन, उनकी पत्नी रितु का शव कमरे में फंदे से लटका हुआ मिला. वहीं उनके बच्चे हर्ष और गुनगुन का शव भी घर के दूसरे कमरे से बरामद हुआ.

वाराणसी: पति-पत्नी ने दोनों बच्चों की गला दबाकर की हत्या, फिर खुद फंदे से झूल कर ली सुसाइड
वाराणसी में घर के अंदर से एक ही परिवार के 4 लोगों का शव बरामद करती पुलिस.

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. शहर के व्यस्ततम इलाकों में से एक आदमपुर के नचिकुवां में एक ही परिवार के 4 लोगों का शव बरामद हुआ. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और शवों को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. 

परिवार के मुखिया चेतन, उनकी पत्नी ऋतु का शव कमरे में फंदे से लटका हुआ मिला. वहीं उनके बच्चे हर्ष और गुनगुन का शव भी घर के दूसरे कमरे से बरामद हुआ. पुलिस ने शुरुअती छानबीन के बाद बताया कि चेतन कर्ज के बोझ तले दबा था. वह इलेक्ट्रिक और इलेक्ट्रॉनिक्स वस्तुओं का व्यापार करते थे.

कर्ज के बोझ में दबो थे चेतन
पुलिस के मुताबिक चेतन का व्यापार काफी मंदा चल रहा था. इसके कारण वह पिछले काफी समय से अवसाद में चल रहे थे. पुलिस को शक है कि चेतन और उनकी पत्नी ऋतु ने बच्चों को मारने के बाद आत्महत्या की हो. आईजी विजय सिंह ने बताया कि बेटे हर्ष और बेटी गुनगुन को खाने में नींद की गोली दी गई थी. बेहोश होने पर दोनों को गला दबाकर मार दिया गया. 

तीन पेज का सुसाइड नोट मिला
आईजी ने बताया कि चेतन और उनकी पत्नी ऋतु ने कमरे में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. मौके से तीन पन्ने का सुसाइड नोट मिला है, जिसमें शादी के बाद से ही पति-पत्नी में विवाद, कारोबार के चौपट होने से अवसाद ग्रस्त होना, आर्थिक मंदी आदि का उल्लेख है. हालांकि पुलिस इस मामले की जांच अन्य एंगल से भी कर रही है.