close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

नोएडा: महंगे कपड़ेे और जेवर के लिए 5 महीने की गर्भवती की कर दी गई हत्या

ग्रेटर नोएडा के बिसरख थाना इलाके से शनिवार को लापता महिला की हत्या कर शव सूटकेस में बंद कर गाजियाबाद जिले के इंदिरापुरम के पास कनावनी में नाले में फेंक दिया था. 

नोएडा: महंगे कपड़ेे और जेवर के लिए 5 महीने की गर्भवती की कर दी गई हत्या
नवंबर 2017 में ही महिला की शादी हुई थी.

नई दिल्ली/नोएडा: गाजियाबाद में सूटकेस में बंद महिला की लाश मिलने से हड़कंप मचने के बाद पुलिस ने सोमवार को दावा किया कि उन्होंने इस मामले में एक पति-पत्नी को गिरफ्तार करके मौत के पीछे की गुत्थी सुलझा ली है. गौतमबुद्ध नगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजयपाल शर्मा ने बताया कि गिरफ्तार दंपति की पहचान सौरभ दिवाकर और ऋतु के रूप में हुई है. ये दोनों उसी इमारत में किराए पर रह रहे थे, जहां पीड़ित माला रह रही थी. 

उन्होंने बताया कि पिछले गुरुवार को माला के घर कुछ रिश्तेदार आए थे. पीड़िता की शादी कुछ दिन पहले ही हुई थी. माला ने अपने रिश्तेदारों को अपने जेवर और मंहगे कपड़े दिखाए, जिस पर आरोपी ऋतु की लालची नजर पड़ गई. इन कपड़ों और जेवर को हासिल करने के लिए ऋतु ने अपने पति सौरभ के साथ मिलकर माला की हत्या कर दी. 

ये भी पढ़ें: गाजियाबाद: छत पर बक्से में मिली बच्चे की लाश, डेढ़ साल पहले हुआ था अगवा

ग्रेटर नोएडा के बिसरख थाना इलाके से शनिवार को लापता महिला की हत्या कर शव सूटकेस में बंद कर गाजियाबाद जिले के इंदिरापुरम के पास कनावनी में नाले में फेंक दिया गया. सूचना पर पहुंचे परिजन ने शव की शिनाख्त की. महिला ने पिछले साल ही प्रेम विवाह किया. 

मृतका के एक रिश्तेदार ने बताया कि जिस सूटकेस में लाश मिली, वह माला को शादी में दिया था. आपको बता दें कि 24 साल की एक गर्भवती महिला का शव सूटकेस में मिला है. वह ग्रेटर नोएडा में अपने घर से रविवार को लापता हो गई थी. गाजियाबाद के इंदिरापुरम में महिला का शव एक नाले में सूटकेस में पड़ा मिला. माला के परिवार ने उसके पति और ससुराल वालों पर दहेज के लिए हत्या का आरोप लगाया है. पुलिस ने इस मामले में 5 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था. 

नवंबर 2017 में माला ने सेल्समैन शिवम के साथ प्रेम विवाह किया था. दोनों की मुलाकात फेसबुक पर हुई. पति-पत्नी बिसरख में रहते थे. माला बच्चों को ट्यूशन पढ़ाती थी. महिला के परिवार वालों ने उसके लापता होने की शिकायत दर्ज कराई थी.