close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

खबर का असर, चिल्ड्रेन होम एकेडमी समेत 3 स्कूलों को नोटिस, बिना NOC के चल रहे हैं स्कूल

Children Home Academy: तीनों स्कूलों को दिए गए नोटिस में चेतावनी दी गई है कि अगर बिना एनओसी के इनका संचालन होता रहा तो उन्हें एक लाख का जुर्माना देना होगा और अगले सत्र से हर दिन के हिसाब से 10 हज़ार का जुर्माना भी भरना पड़ेगा.

खबर का असर, चिल्ड्रेन होम एकेडमी समेत 3 स्कूलों को नोटिस, बिना NOC के चल रहे हैं स्कूल
6 महीने पहले वासु यादव की हत्या के बाद एकेडमी फिर चर्चा की विषय बन गई है.

देहरादून: ज़ी उत्तर प्रदेश उत्तराखंड (Zee UP-Uttarakhand) की ख़बर का बड़ा असर हुआ है. ऋषिकेश (Rishikesh) में चिल्ड्रेन होम एकेडमी (Children Home Academy) मे चल रही अनियमितताओं और संदिग्ध गतिवधियों की ख़बर को प्रमुखता से दिखाने के बाद अब मुख्य शिक्षा अधिकारी ने इस स्कूल को नोटिस (Notice) जारी किया है. स्कूल का एनओसी 10 मार्च को हुए वासु यादव हत्याकांड (Vasu Yadav Murder Case) बाद ही खत्म कर दिया गया था, बावजूद इसके स्कूल प्रबंधन एनओसी (NOC) के बिना ही स्कूल चला रहा था. जानकारी के मुताबिक, इसके साथ 2 अन्य स्कूलों को भी नोटिस जारी किया गया है. 

मुख्य शिक्षा अधिकारी ने चिल्ड्रेन होम एकेडमी के साथ-साथ जाखन और राजपुर रोड पर चलने वाले स्कॉलर्स होम स्कूल को भी बिना एनओसी के संचालित होने पर नोटिस भेजा है. तीनों स्कूलों को दिए गए नोटिस में चेतावनी दी गई है कि अगर बिना एनओसी के इनका संचालन होता रहा तो उन्हें एक लाख का जुर्माना देना होगा और अगले सत्र से हर दिन के हिसाब से 10 हज़ार का जुर्माना भी भरना पड़ेगा.

लाइव टीवी देखें

आपको बता दें कि चिल्ड्रेन होम एकेडमी में मानव अंगों की तस्करी की आशंका के बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया. उत्तराखंड बाल आयोग की टीम ने चिल्ड्रेन होम एकेडमी में 8वीं कक्षा के छात्र अभिषेक की मौत के बाद ये आशंका व्यक्त की. इससे पहले भी 10 मार्च को वासु यादव की हास्टल के छात्रों ने पीट पीट कर हत्या कर दी थी, जिसे स्कूल प्रबंधन ने कब्रिस्तान में दफना दिया. अब 6 महीने बाद एक बार फिर ये जिन्न निकलकर बाहर आ गया है. उस समय आयोग ने सीबीआई से जांच कराने की सस्तुति की थी लेकिन राज्य सरकार ने इसपर कोई निर्णय लिया.