करोड़ों के पावर बैंक एप फ्रॉड मामले में देहरादून STF ने तमिलनाडु से किया दो आरोपियों को गिरफ्तार

पुलिस टीमों ने तमिलनाडु के सालेम और इरोड जिले में कई संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ की. पुलिस ने आरोपितों को कोर्ट में पेश कर चार दिन का कस्टडी रिमांड लिया है. 

करोड़ों के पावर बैंक एप फ्रॉड मामले में देहरादून STF ने तमिलनाडु से किया दो आरोपियों को गिरफ्तार
सांकेतिक

राम अनुज/देहरादून: देश के सबसे बड़े साइबर फ्रॉड केस (Cyber Fraud Case) में उत्तराखंड पुलिस को अहम सफलता मिली है. करोड़ों के अंतरराष्ट्रीय पावर बैंक एप फ्रॉड मामले में स्टेट पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) की साइबर पुलिस और फाइनेंसियल फ्रॉड यूनिट ने तमिलनाडु में दबिश देकर दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है. पावर बैंक मोबाइल एप्लीकेशन के जरिए धोखाधड़ी की गई थी.

रूद्रप्रयाग को जोडने वाले दो दर्जन से ज्यादा मार्ग बंद, मंदाकिनी नदी में गिरी कार, एक की मौत

चार दिन का कस्टडी रिमांड 
पुलिस टीमों ने तमिलनाडु के सालेम और इरोड जिले में कई संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ की. पुलिस ने आरोपितों को कोर्ट में पेश कर चार दिन का कस्टडी रिमांड लिया है. 

कई लोगों से पूछताछ जारी
एसटीएफ देहरादून ने अंतर्राष्ट्रीय पावर बैंक फ्रॉड  तमिलनाडु में बुधवार को रेड की कार्रवाई की. तमिलनाडु में सलीम और इरोड डिस्ट्रिक्ट में कई लोगों से पूछताछ जारी है. बैंकिंग आफ अनरेगुलेटेड मनी एक्ट में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. ये फ्रॉड तकरीबन 300 करोड़ रुपये का बताया जा रहा है. बता दें कि पावर बैंक मोबाइल एप्लीकेशन के जरिए धोखाधड़ी की गई.

उत्तराखंड में भारी बारिश का दौर जारी, देहरादून में सड़कें जलमग्न, उफान पर नदी-नाले

‘स्पाइडरमैन’ ने महिला को लात-घूंसों से पीटा, वीडियो देख यूजर्स को आ रहा गुस्सा

WATCH LIVE TV