दिल्ली हिंसा में बुलंदशहर के एक युवक की मौत, दूसरा गंभीर रूप से घायल

मुस्तफाबाद हिंसा में लगी थी दोनों युवकों को गोली, मृतक के शव का पोस्टमार्टम दिल्ली के तेग बहादुर अस्पताल में हुआ. जबकि दूसरे युवक इलाज चल रहा है.

दिल्ली हिंसा में बुलंदशहर के एक युवक की मौत, दूसरा गंभीर रूप से घायल

मोहित गौतम/बुलंदशहर: जहांगीराबाद कोतवाली क्षेत्र के गांव सांखनी निवासी एक युवक़ की दिल्ली के मुस्तफाबाद हिंसा में गोली लगने से दर्दनाक मौत हो गई. इसी गांव का दूसरा युवक गोली लगने से दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहा है. हादसे की खबर मिलते ही पूरे गांव में मातम छा गया है. अशफाक की शादी 12 दिन पहले ही हुई थी. वहीं प्रशासन ने गांव वालों से शांति बनाए रखने की अपील की है.

युवक की मौत से परिवार में जहां कोहराम मचा हुआ है वहीं परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. कोतवाली क्षेत्र के गांव सांखनी निवासी आग़ाज़ के बेटे अशफ़ाक दिल्ली के मुस्तफाबाद में फ्रिज व एसी मैकेनिक था. परिजनों के मुताबिक मंगलवार की देर शाम काम से वापस लौटते समय मुस्तफाबाद हिंसा के दौरान बवाल कर रहे दंगाईयों ने अशफाक को सीने व सिर में गोली मार दी. उसकी मौके पर ही मौत हो गई. उसी दौरान गांव के ही डाबर हुसैन के पुत्र सखी हसन को भी दंगाइयों ने चेहरे पर गोली मारकर बुरी तरह घायल कर दिया. जिसका इलाज दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में चल रहा है. चिकित्सकों ने घायल युवक की हालत गंभीर है. 

अशफाक के शव का पोस्टमॉर्टम जीटीबी अस्पताल में हुआ. युवक की मौत की खबर सुनते ही मृतक की पत्नी तस्लीम फ़ातिमा भी बेहोशी की हालत में है. बता दें कि मृतक अशफाक की शादी महज 12 दिन पहले ही हुई थी.

डीएम और एसएसपी दिल्ली हिंसा में मारे गए अशफाक हुसैन के घर पहुंचे और परिवार वालों को सांत्वना दी. साथ ही गांव के लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है. किसी भी हालात से निपटने के लिए जहांगीराबाद कोतवाली के सांखनी गांव में जगह-जगह पुलिस बल तैनात किया गया है.

CAA: दिल्ली हिंसा से यूपी के 16 जिलों में धारा 144, हाई अलर्ट पर पुलिस