close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिल्ली में मेरठ के जिला पंचायत सदस्य की गोली मारकर हत्या

दिलशाद खान के परिवार वालों के मुताबिक रमजान के दौरान दिलशाद का गांव के ही लोगों से झगड़ा हुआ था जिसके बाद दिलशाद के ऊपर 307 का मुकदमा दर्ज हुआ था और वह तिहाड़ जेल भी गया था.

दिल्ली में मेरठ के जिला पंचायत सदस्य की गोली मारकर हत्या
घायल हालत मदिलशाद खान होली फैमिली अस्पताल में भर्ती कराया गया.लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

नई दिल्लीः दिल्ली के जामिया नगर के बटला हाउस इलाके की सर सैयद रोड पर सोमवार शाम करीब 6 बजे अचानक गोलियों की आवाज से सनसनी फैल गई. बाइक पर आए दो बदमाशों ने 38 साल के दिलशाद खान नाम के शख्स पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी और मौके से फरार हो गए. हमलावरों ने हेलमेट भी पहन रखा था.फौरन ही पुलिस को इत्तला दी गई और घायल हालत में दिलशाद खान होली फैमिली अस्पताल में भर्ती कराया गया.लेकिन डॉक्टरों ने दिलशाद खान को मृत घोषित कर दिया. 

दिलशाद खान पेशे से प्रॉपर्टी डीलर है और वह मेरठ के सठला से जिला पंचायत सदस्य भी है. सोमवार शाम को दिलशाद खान अपने घर पर था तभी किसी का फोन आया और वह घर से बाहर चला गया. थोड़ी देर बाद घर के पास ही बाइक पर सवार होकर आए दो लोगों ने दिलशाद खान को गोली मार दी और मौके से फरार हो गए. अस्पताल में डॉक्टरों ने दिलशाद को मृत घोषित कर दिया. 

Image

दिलशाद खान के परिवार वालों के मुताबिक रमजान के दौरान दिलशाद का गांव के ही लोगों से झगड़ा हुआ था जिसके बाद दिलशाद के ऊपर 307 का मुकदमा दर्ज हुआ था और वह तिहाड़ जेल भी गया था..तिहाड़ में वह 28 दिन रहा और 10 दिन पहले ही जेल से छूटकर वापस आया था. 

पुलिस सभी एंगल से जांच कर रही है और यह भी जांच की जा रही है कि क्या कातिल वही लोग हैं जिनसे दिलशाद का झगड़ा हुआ था. फिलहाल पुलिस ने लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.दिलशाद के परिवार में दो बेटे और एक बेटी हैं.

Image

पुलिस आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है और लोगों से पूछताछ भी की जा रही है.लेकिन जिस तरह से भीड़ भाड़ वाले बाजार में दिलशाद की हत्या की वारदात को बदमाशों ने बेखौफ होकर अंजाम दिया उस से राजधानी में कानून व्यवस्था पर तमाम सवाल जरूर खड़े हो गए हैं.