बैलगाड़ी पर सवार होकर बारात लेकर गया दूल्हा, देखने वालों की लग गई भीड़

इस बारात ने पुरानी परंपराओं की याद ताजा कर दिया. 

 बैलगाड़ी पर सवार होकर बारात लेकर गया दूल्हा, देखने वालों की लग गई भीड़

त्रिपुरेश  त्रिपाठी/देवरिया: अभी तक आपने लग्जरी वाहनों और घोड़ों और हाथियों की बारात देखी होगी. लेकिन आज हम आपको एक अनोखी बारात के बताएंगे जिसे जानकर आप भी रोमांचित हो जाएंगे. इस बारात ने पुरानी परंपराओं की याद ताजा कर दिया. 

पुरानी परंपरा से बारात निकालने का निर्णय
दरअसल रामपुर कारखाना विकासखंड के कुसहरी गांव के रहने वाले छोटेलाल की रविवार को शादी थी. बारात जिले में ही 35 किलोमीटर दूर पकड़ी बाजार जानी थी. इसके लिए छोटेलाल ने बारात पुराने रीति-रिवाज और परंपरा से निकालने का निर्णय लिया. उन्होंने कहा कि मैंने यह सोच रखा था कि जब मेरी शादी होगी तो बैलगाड़ी से अपनी बारात ले जाऊंगा. ताकि, पुरानी परंपरा को आज के दौर में लोग देख व समझ सकें.

एक महीने में दूसरी बार बीएल संतोष और राधामोहन का लखनऊ दौरा, जानिए क्या हो सकता है एजेंडा

बैलगाड़ी से निकली बारात
दूल्हा छोटलाल और बाराती सभी बैल गाड़ी में सवार होकर धनगर पालकी से परछावन के निकले. खास बात यह रही कि इस बारात में डीजे की जगह  कलाकरा फरुआई लोक नृत्य कर रहे थे. जिसके जरिए वर्षों पुरानी पंरपरा को जीवंत करने का प्रयास किया गया.रास्ते में भी यह बारात लोगों के आकर्षण का केंद्र बनी रही. बारात को देखकर लोग बरबस अपने मोबाइल कैमरे कैद करने को मजबूर होते रहे. 

WATCH LIVE TV