close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बीजेपी ने कसा तंज, 'हार के बाद SP-BSP गठबंधन 'वेंटीलेंटर' पर अंतिम सांसे ले रहा है'

बसपा प्रमुख मायावती द्वारा विधानसभा उपचुनाव अकेले लड़ने के निर्णय के बाद बीजेपी ने विपक्षी गठबंधन को लेकर कटाक्ष किया है. 

बीजेपी ने कसा तंज, 'हार के बाद SP-BSP गठबंधन 'वेंटीलेंटर' पर अंतिम सांसे ले रहा है'
सपा-बसपा गठबंधन पर कटाक्ष करते हुए शर्मा ने कहा कि सारे प्रयोग उत्तरप्रदेश में फेल हुए हैं.

लखनऊ: बसपा प्रमुख मायावती द्वारा विधानसभा उपचुनाव अकेले लड़ने के निर्णय के बाद बीजेपी ने विपक्षी गठबंधन को लेकर कटाक्ष किया है. मायावती के फैसले के बाद प्रदेश के उप मुख्यमंत्री ने डॉ. दिनेश शर्मा ने सोमवार को तंज करते हुये कहा, 'चुनाव के पहले जो गठबंधन हुआ था हार के बाद आज वह अंतिम सांसे, अंतिम हिचकियां ले रहा है, एक तरह से वह वेंटीलेटर पर है, कभी भी, वेंटीलेटर पर जो हिचकियां है वह और बढ़ सकती है.' 

शर्मा ने कहा कि जो जाति के नाम पर गठबंधन होते हैं, राजनीतिक गठजोड़ होते हैं, उनकी अल्पआयु होती है. एक निश्चित समय बीतने के बाद वह अपना अस्तित्व खो देते हैं. उत्तर प्रदेश में अवसरवादी गठबंधन हुआ था. उन्होंने सपा-बसपा गठबंधन पर कटाक्ष करते हुए कहा कि सारे प्रयोग उत्तरप्रदेश में फेल हुए हैं. जनता ने सबको साथ लेकर चलने की मोदी जी की प्रवृत्ति को स्वीकारा है और सारे अवसरवादी गठबंधन को नकार दिया. 

 

बसपा के फैसले के बाद सपा ने ये कहा
बसपा सुप्रीमो मायावती के अकेले विधानसभा उपचुनाव लड़ने के फैसले के बाद समाजवादी पार्टी ने कहा कि अभी कोई आधिकारिक जानकारी नहीं है. सपा के कार्यालय में सन्नाटा छाया हुआ है. पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव अपने लोकसभा क्षेत्र आजमगढ़ दौरे पर हैं. 

बसपा के इस रुख पर पूछे जाने पर सपा के मुख्य प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा, 'नहीं अभी कोई आधिकारिक बयान नहीं है. अखिलेश यादव ही तय करेंगे कि क्या हुआ है और इसमें कितनी सच्चाई है. चूंकि कोई आधिकारिक रुख तो है नहीं, यह तो बाहर का सुना सुनाया मामला है. क्या बात हुई, क्या मामला है उसे समझना पड़ेगा. अखिलेश यादव आजमगढ़ में हैं, वह आ जायें फिर कुछ कहा जायेगा.' उन्होंने कहा कि 'किसी के पास उनका (बसपा का) आधिकारिक बयान नहीं है इसलिये अभी इंतजार करना होगा.'