गोरखपुर: डॉ कफील खान केरल में करेंगे NiPah वायरस पीड़ितों का इलाज

गोरखपुर के BRD मेडिकल कॉलेज हादसे के बाद चर्चा में आए डॉ कफील खान केरल में NiPah वायरस से पीड़ित मरीजों का इलाज करेंगे. 

गोरखपुर: डॉ कफील खान केरल में करेंगे NiPah वायरस पीड़ितों का इलाज
फेसबुक पोस्ट के जरिए डॉ कफील खान ने काम करने की इच्छा जताई थी.

गोरखपुर: गोरखपुर के BRD मेडिकल कॉलेज हादसे के बाद चर्चा में आए डॉ कफील खान केरल में NiPah वायरस से पीड़ित मरीजों का इलाज करेंगे. फिलहाल, डॉ कफील खान जमानत पर बाहर है. उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट पर लिखा था कि सोने की कोशिश कर रहा हूं, मगर निपाह वायरस से हो रही मौत से परेशान हूं, नींद नहीं आ रही है. उन्होंने केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन से अनुरोध किया कि उन्हें निपाह वायरस के पीड़ितों के ईलाज का मौका मिले. उन्होंने नर्स लिनी को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि वो एक प्रेरणा की तरह हैं. एक अच्छी वजह से मैं भी अपनी जिंदगी कुर्बान करने के लिए तैयार हूं. अल्लाह मुझे मानवता की सेवा करने के लिए ताकत दें.

डॉ कफील के पोस्ट के बाद करेल के मुख्यमंत्री पी. विजयन ने ट्वीट किया कि राज्य सरकार को बहुत खुशी होगी, अगर डॉक्टर कफील खान यहां आकर हमारी मदद करें. मुख्यमंत्री मुख्यालय से ट्वीट किया गया कि कई डॉक्टरों ने निपाह वायरस से प्रभावित क्षेत्रों में काम करने में रुचि दिखाई है. केरल सरकार उन सभी डॉक्टरों और प्रोफेशनल्स का स्वागत करती है. जो लोग इस दिशा में काम करना चाहते हैं वे हेल्थ डिपार्टमेंट के डायरेक्टर से संपर्क करें या कोझिकोड गर्वनमेंट मेडिकल कॉलेज के सुपरीटेंडेंट से संपर्क करें.

 

 

केरल के कोझिकोड जिले में पिछले दो हफ्ते में कथित रुप से ‘निपाह’ नामक एक विषाणु से अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है. इससे पहले रविवार (20 मई) को केरल के कोझिकोड जिले में पिछले दो हफ्ते में कथित रुप से ‘निपाह’ नामक एक विषाणु से एक ही परिवार के तीन व्यक्तियों और दो अन्य की मौत के बाद राज्य सरकार का स्वास्थ्य विभाग बिल्कुल सावधान हो गया. राज्य के स्वास्थ्य मंत्री के. के. श्याला ने स्वास्थ्य विभाग के शीर्ष अधिकारियों की एक बैठक की अध्यक्षता करने के बाद कहा, ‘‘जिस विषाणु से यह बीमारी पैदा की, उसका प्रकार अबतक पता नहीं चला है. खून और अन्य नमूने पुणे के राष्ट्रीय विषाणु संस्थान भेजे गये हैं. कुछ दिनों में परिणाम उपलब्ध होगा.’’ 

Dr. Kafeel Khan will serve Nipah virus affected areas in Kerela tweets CM Pinarayi Vijayan

रविवार (20 मई) को इस वायरस से पीड़िता नर्स की मौत हो गई, जो कि तालुक अस्पताल में काम करती थी. रिपोर्ट के मुताबिक अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती मरीजों के संपर्क में आने के बाद नर्स भी उसकी शिकार हो गई. इस बात की आशंका से कि कहीं इस वायरस का असर और न बढ़े, नर्स के मृत शरीर को उसके परिवार को ना सौंपते हुए तुरंत ही अंतिम संस्कार कर दिया गया.