close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अयोध्या: ड्रोन से होगी दुर्गा पंडालों की निगरानी, सुरक्षा को लेकर प्रशासन हुआ सख्त

पुलिस विभाग में शासन से ड्रोन कैमरे खरीदने की अनुमति मांगी है. शहर के चौक एरिया में सी ओ सिटी अरविंद चौरसिया की निगरानी की प्राइवेट ड्रोन कैमरे से दुर्गा पंडालों की सुरक्षा निगरानी की जाएगी. 

अयोध्या: ड्रोन से होगी दुर्गा पंडालों की निगरानी, सुरक्षा को लेकर प्रशासन हुआ सख्त
फाइल फोटो

नई दिल्ली: अयोध्या मसले की सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई और दुर्गा पूजा त्यौहार को देखते हुए जिला प्रशासन ने अयोध्या शहर के प्रमुख स्थानों पर ड्रोन कैमरों की तैनाती का फैसला लिया है. पुलिस विभाग में शासन से ड्रोन कैमरे खरीदने की अनुमति मांगी है. शहर के चौक एरिया में सी ओ सिटी अरविंद चौरसिया की निगरानी की प्राइवेट ड्रोन कैमरे से दुर्गा पंडालों की सुरक्षा निगरानी की जाएगी. शहर में 144 दुर्गा पंडालों पर पीएसी और सिविल पुलिस के जवानों को तैनात किया गया है. बता दें कि साल 2012 में शारदीय नवरात्र दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान दो समुदायों के बीच विवाद हुआ था. इस वजह से इस साल सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं. 

अयोध्या को लेकर शासन और जिला प्रशासन बेहद सतर्क है.  अयोध्या विवाद की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में चल रही है, जिसका असर शहर के हर कोने में देखने को मिल रहा है. अयोध्या मामला संवेदनशील होने की वजह से इस बार पुलिस विभाग ने सरकार से पांच ड्रोन कैमरे की तैनाती के लिए मांग की है. पुलिस विभाग के पास अभी ड्रोन कैमरा नहीं है. पुलिस विभाग ने प्राइवेट संस्था से ड्रोन कैमरे को लेकर नगर क्षेत्र के चौक एरिया में उड़ा कर सुरक्षा निगरानी की है. 

मथुरा में बोलीं हेमा मालिनी, 'पर्यावरण को साफ रखने के लिए सिंगल यूज प्लास्टिक बंद करना होगा'

सीओ सिटी अरविंद चौरसिया की मानें तो दुर्गा पूजा और दीपोत्सव को देखते हुए ड्रोन कैमरे की तैनाती बहुत जरूरी हो गई है. साल  2012 में दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान विवाद का दंश अयोध्या झेल चुका है. इसलिए अयोध्या की संवेदनशीलता को देखते हुए ड्रोन कैमरे के साथ साथ 144 दुर्गा प्रतिमा पंडाल पर पीएसी व सिविल पुलिस की तैनाती की गई है.