लॉकडाउन के बीच ईद मुबारक, त्यौहार के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना प्रोटोकॉल का भी पूरा ख्याल

लखनऊ के ऐशबाग ईदगाह में आज सुबह बेहद सादगी से नमाज अदा की गई. ईद की मुबारकबाद देते हुए मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली ने सभी से अपील की है कि वे घरों में रहकर ही नमाज पढ़ें और त्यौहार मनाएं.

लॉकडाउन के बीच ईद मुबारक, त्यौहार के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना प्रोटोकॉल का भी पूरा ख्याल
प्रतीकात्मक फोटो

लखनऊ: रविवार को ईद का चांद दिखाई देने के बाद आज देश भर में ईद का त्यौहार मनाया जा रहा है. कोरोना महामारी के संकट के बीच मुस्लिम धर्मगुरुओं ने लोगों से अपील की है कि त्यौहार को लोग घर पर ही रहकर मनाएं. ईद की रौनक न तो बाजारों में दिख रही है न ही सड़कों पर. लोग अपने घरों में रहकर ही नमाज अदा कर रहे हैं और त्यौहार मना रहे हैं.

सादगी से अदा हुई ऐशबाग ईदगाह में नमाज 
लखनऊ के ऐशबाग ईदगाह में आज सुबह बेहद सादगी से नमाज अदा की गई. ईद की मुबारकबाद देते हुए मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली ने सभी से अपील की है कि वे घरों में रहकर ही नमाज पढ़ें और त्यौहार मनाएं. हर वर्ष ऐशबाग की ईदगाह में जहां लाखों लोग ईद की नमाज अदा करने आते थे, वहीं इस बार लॉकडाउन का पालन करते हुए मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली के अलावा 5 और लोगों ने नमाज अदा की. मौलाना ने कहा कि हम जो पैगाम देना चाह रहे थे, लोगों ने पूरी तरह उसका पालन किया. ईद की नमाज के लिए कहीं भी कोई भीड़ नहीं लगी.

राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने भी दी बधाई 
उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश वासियों को ईद-उल-फितर की शुभकामना दी. विधानसभा अध्यक्ष हृदयनारायण दीक्षित के साथ-साथ तमाम मंत्री और नेताओं ने भी लोगों को ईद-उल-फितर की बधाई देते हुए उनके सुख एवं समृद्धि की कामना की है. 

इसे भी पढ़िए : सावधान ! आंखों से भी फैल सकता है कोरोना संक्रमण, जानिए कैसे होगा बचाव 

बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने भी प्रदेशवासियों को ईद पर बधाई देते हुए कहा कि आपसी भाईचारा और सौहार्द मजबूत करने के साथ सामाजिक समरसता बनाने का संकल्प भी इस मौके पर लेना चाहिए। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी लोगों को ईद की शुभकामना दी.

ईद में नहीं है पहले जैसी रौनक
कोरोना काल में ईद के त्यौहार में वैसी धूम नहीं है. राजधानी लखनऊ में भी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. मेरठ में भी कोरोना के बढ़े हुए केसेज को देखते हुए जिले में कंप्लीट लॉकडाउन की स्थिति है. प्रशासन ईद के त्यौहार के बीच भी लॉकडाउन का पालन कराने में जुटा हुआ है. आगरा, कानपुर और गौतमबुद्धनगर में भी कोरोना के पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ने की वजह से प्रशासन मुस्तैद है, ताकि लोगों को इकट्ठा न होने दिया जाए. लोगों से अपील की गई है कि वे सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा पालन करें. गले लगाने के बजाय एक-दूसरे को बधाई फोन कॉल और मैसेज के जरिये दें. घर से बाहर निकलते वक्त मास्क का इस्तेमाल जरूर करें.

WATCH LIVE TV