इस बार बकरीद पर संक्रमण की 'कुर्बानी', घरों से ही पढ़ी जा रही है ईद की नमाज

बकरीद के मौके पर मुल्क को बधाई देते हुए इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया फरंगी महल के चेयरमैन मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने अपील की है कि वो कुर्बानी के असली मकसद को अपनी जिंदगी में जरूर उतारें. कुर्बानी को लेकर जो एडवाइजरी जारी हुई है उसका पालन जरूर करें.

इस बार बकरीद पर संक्रमण की 'कुर्बानी', घरों से ही पढ़ी जा रही है ईद की नमाज
प्रतीकात्मक फोटो

लखनऊ: आज पूरे मुल्क में बकरीद का त्यौहार मनाया जा रहा है. ये बात अलग है कि इस साल के तमाम त्यौहारों की तरह बकरीद की भी रौनक कोरोना संकट की भेंट चढ़ गई है. प्रदेश भर के मस्जिदों में सामूहिक नमाज पढ़ने पर रोक लगाई गई है, ऐसे में लोग घरों से ही ईद की नमाज पढ़ रहे हैं. त्यौहार पर शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए पुलिस प्रशासन ने कड़े सुरक्षा प्रबंध किए हैं. लखनऊ में भी सेक्टर मजिस्ट्रेट बनाए गए हैं, जो पुलिस के साथ अपने-अपने क्षेत्रों में दिन भर भ्रमण करेंगे. 

बरती जा रही है पूरी एहतियात 
लखनऊ के ऐशबाग ईदगाह के बाहर भी सेंट्रल फोर्स तैनात की गई है ताकि किसी भी हाल में नमाज़ियों की भीड़ इक्कट्ठी न हो. लोगों को कोविड 19 के खतरे का हवाला देते हुए घरों पर ही नमाज अदा करने की अपील की गयी है. मस्जिदों में भी कोविड नियमों का पालन करते हुए एक बार में सिर्फ पांच लोगों से ही नमाज अदा करने को कहा गया है.

मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली की अपील
बकरीद के मौके पर मुल्क को बधाई देते हुए इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया फरंगी महल के चेयरमैन मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने अपील की है कि वो कुर्बानी के असली मकसद को अपनी जिंदगी में जरूर उतारें. कुर्बानी को लेकर जो एडवाइजरी जारी हुई है उसका पालन जरूर करें. उन्होंने लोगों से ईद-उल-अजहा की नमाज घर पर अदा करने की अपील के साथ कहा कि कोरोना संक्रमण तेजी से प्रदेश में पैर पसार रहा है, इसलिए हम सभी को सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन का पालन करना चाहिए. उन्होंने लोगों से कहा कुर्बानी घरों में ही करें और सोशल मीडिया पर इसकी फोटो न डालें. 

इसे भी पढ़िए: बुलंदशहर पुलिस ड्रोन उड़ाती रही, पुलिस चौकी के पीछे गड्ढे में गड़ा मिला लापता वकील का शव 

इस बार गायब है मस्जिदों और बाज़ारो से  रौनक 
कोरोना महामारी के संकट के बीच मुस्लिम धर्मगुरुओं ने लोगों से अपील की है कि त्यौहार को लोग घर पर ही रहकर मनाएं. बकरीद की रौनक न तो बाजारों में दिख रही है न ही सड़कों पर. लोग अपने घरों में रहकर ही नमाज अदा कर रहे हैं और त्यौहार मना रहे हैं. लखनऊ के ऐशबाग ईदगाह में हर साल लाखों की भीड़ नमाज़ अदा करने आती थी, लेकिन इस बार नज़ारा पूरा बदला हुआ है.

WATCH LIVE TV