close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उत्तराखंड: हॉर्स ट्रेडिंग की आशंका के मद्देनजर निर्वाचन आयोग सख्त

माना जा रहा है कि 10 नवंबर के बीच जिला पंचायत अध्यक्ष व ब्लॉक प्रमुख के चुनाव हो सकते हैं.

उत्तराखंड: हॉर्स ट्रेडिंग की आशंका के मद्देनजर निर्वाचन आयोग सख्त
उत्तराखंड में हाल ही में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के मद्देनजर पहले चरण का चुनाव सम्पन्न हो चुका है.

देहरादून: उत्तराखंड में जिला पंचायत अध्यक्ष व ब्लॉक प्रमुख के चुनाव के मद्देनजर हॉर्स ट्रेडिंग की आशंकाओं के बीच राज्य निर्वाचन आयोग ने भी सख्त रूख अपनाया है. मंगलवार को राज्य निर्वाचन आयुक्त ने सभी जिलों के जिलाधिकारी व एसएसपी को इस संबंध में वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिये सख्त दिशानिर्देश जारी किए हैं. आयोग ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि अगर इस तरह की कोई सूचना आती है, तो उसका तत्काल संज्ञान लिया जाए. होटल व बड़े रिसोर्ट पर भी नजर रखी जाए और उनका आकस्मिक निरीक्षण भी किया जाए. 

राज्य निर्वाचन आयोग ने इसके साथ ही सभी जिलों में शिकायत निवारण प्रकोष्ठ का भी गठन किया है. जिसमें निर्वाचन से संबंधित सभी तरह की शिकायतें दर्ज करवाई जा सकती हैं. माना जा रहा है कि 10 नवंबर के बीच जिला पंचायत अध्यक्ष व ब्लॉक प्रमुख के चुनाव हो सकते हैं. बता दें कि उत्तराखंड में हाल ही में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के मद्देनजर पहले चरण का चुनाव सम्पन्न हो चुका है. अब राज्य में जिला पंचायत अध्यक्ष व ब्लॉक प्रमुख के चुनाव होने हैं. 

12 जिलों में जिला पंचायत अध्यक्ष व 89 ब्लॉक में ब्लॉक प्रमुख का चुनाव होना है. इन चुनाव में मतदान पंचायत चुनाव के तहत जनता से निर्वाचित होकर आये क्षेत्र पंचायत सदस्य और जिला पंचायत सदस्य करते हैं. इन चुनाव में अक्सर हॉर्स ट्रेडिंग के आरोप लगते हैं, लिहाजा राज्य निर्वाचन आयोग इस दिशा में बेहद सख्त हो गया है. राज्य निर्वाचन आयुक्त चंद्रशेखर भट्ट का कहना है कि पारदर्शी और भयमुक्त चुनाव के लिए निर्वाचन आयोग की पूरी तैयारी है.