close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिल्ली से भी खराब हुई लखनऊ की हवा, दिवाली से पहले बढ़ी लोगों की चिंता

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के रिकॉर्ड के मुताबिक, लखनऊ का एक्यूआई इस मौसम में पहली बार 294 पहुंचा है.

दिल्ली से भी खराब हुई लखनऊ की हवा, दिवाली से पहले बढ़ी लोगों की चिंता
दिवाली में अभी कुछ दिन का समय बाकी है ऐसे में वायु प्रदूषण के इन आंकड़ों ने चिंता बढ़ा दी है.

नई दिल्ली, विवेक शुक्ला: दिवाली (Diwali) से पहले उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की राजधानी लखनऊ (Lucknow) के लोगों की चिंता बढ़ गई है. सोमवार (21 अक्टूबर) को अदब की नगरी लखनऊ की आबोहवा देश में सबसे खराब स्तर पर पहुंच गई. सोमवार को लखनऊ का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 294 पर पहुंच गया. चिंता की बात यह है कि लखनऊ की हवा में गाजियाबाद और दिल्ली जैसे शहरों से भी अधिक जहर पाया गया है. वहीं, दिल्ली में एक्यूआई 249 रिकॉर्ड हुआ है. 

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के रिकॉर्ड के मुताबिक, लखनऊ का एक्यूआई इस मौसम में पहली बार 294 पहुंचा है. ऐसे में यह माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में राजधानी की हवा बहुत खराब की श्रेणी में पहुंच सकती है. अभी 300 से कम एक्यूआई रहने पर यह खराब की श्रेणी में आता है.  रविवार को लखनऊ का एक्यूआई 272 रिकॉर्ड हुआ था. 24 घंटे में ही यह 300 के करीब पहुंच गया है.

गोमतीनगर की हालत बुरी
सीपीसीबी लखनऊ में चार जोन में वायु प्रदूषण की ऑनलाइन निगरानी करता है. इसमें आवासीय इलाकों में गोमतीनगर का एक्यूआई सबसे अधिक बना हुआ है. रात नौ बजे तक इसका 24 घंटे का औसत एक्यूआई 311 रिकॉर्ड हुआ है. वहीं, औद्योगिक क्षेत्रों में तालकटोरा में सबसे अधिक हवा प्रदूषित है. यहां एक्यूआई 328 रिकॉर्ड हुआ है.

पीएम 2.5 बिगाड़ रहा हवा की सेहत
सीपीसीबी की रिपोर्ट के मुताबिक, राजधानी की हवा को प्रदूषित करने में सूक्ष्म कण पीएम 2.5 जिम्मेदार है. इसके बढ़े होने की वजह निर्माण वाली साइट पर धूल उड़ने, वाहनों के गैस उत्सर्जन और सड़कों पर जमी धूल है.

देश में सबसे अधिक यहां प्रदूषण

शहर   एक्यूआई
लखनऊ       294
गाजियाबाद      284
यमुनानगर   277
मुरादाबाद       272
करनाल      269
मुजफ्फरनगर  266

एक्यूआई के स्तर को समझें

एक्यूआई       रंग    हवा पर असर
 50 से कम   हरा  अच्छी
 51 से 100          गहरा हरा    संतोषजनक
101 से 200  पीला  सुधरी हुई
201 से 300   गहरा पीला  खराब
201 से 300   लाल  बहुत खराब
401 से 500      गहरा लाल  खतरनाक

दिवाली से पहले प्रदूषण बढ़ने से बढ़ी चिंता
दिवाली में अभी कुछ दिन का समय बाकी है ऐसे में वायु प्रदूषण के इन आंकड़ों ने चिंता बढ़ा दी है. दिवाली पर होने वाली आतिशबाजी से प्रदूषण का स्तर और बढ़ेगा जिसे देखते हुए प्रशासन ने प्रयास शुरु कर दिए है.

लाइव टीवी देखें

गुणवत्ता सुधारने के लिए प्रशासन ने शुरू किए प्रयास
राजधानी की खराब हवा के आंकड़ों के बाद राजधानी लखनऊ का प्रशासन भी सक्रिय हो गया है. सुबह ही टेंकर के माध्यम से जहां-जहां हवा की क्वालिटी खराब है. वहां पेड़ों के ऊपर पानी का छिड़काव किया गया. इसके साथ ही शहर में चल रहे सेतु निगम के साथ कई महत्वपूर्ण निर्माण कार्यों को दिवाली तक रोक दिया गया है और अगले आदेश आने के बाद ही निर्माण कार्यों की शुरुआत होगी.