नृपेंद्र मिश्र ने किए रामलला और बजरंगबली के दर्शन, अब होगी अयोध्या और राममंदिर की बात

राम मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन पूर्व आईएएस अधिकारी नृपेंद्र मिश्र ने अयोध्या में राम जन्मभूमि में रामलला और हनुमानगढ़ी में हनुमान जी का दर्शन किए. 25-26 फरवरी को होने वाली बैठक में राम मंदिर के लिए न्यू खुदाई के कार्य प्रगति के बारे में चर्चा होगी.   

नृपेंद्र मिश्र ने किए रामलला और बजरंगबली के दर्शन, अब होगी अयोध्या और राममंदिर की बात

मनमीत गुप्ता/अयोध्या: राम नगरी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए नींव की खुदाई का कार्य शुरू हो चुका है. ऐसे में राम मंदिर निर्माण में नींव की डिजाइन क्या होगी, अब तक राम मंदिर निर्माण कार्य में क्या प्रगति हो चुकी है, और नींव के अंदर किस-किस मेटेरियल को प्रयोग में लाया जाएगा उसके लिए बैठक आज से शुरू हो गई है. यह बैठक 25 फरवरी और 26 फरवरी 2 दिन चलेगी. 

1 मार्च से उत्तर प्रदेश में किन चीजों की होगी शुरुआत, डाल लीजिए इन काम की खबरों पर एक नजर

किए राम लला और हनुमानगढ़ी में हनुमान जी के दर्शन
राम मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन पूर्व आईएएस अधिकारी नृपेंद्र मिश्र बैठक में शामिल होने के लिए 24 फरवरी की दोपहर को ही अयोध्या पहुंच चुके थे. जहां सुबह उन्होंने राम जन्मभूमि राम लला का और हनुमानगढ़ी में हनुमान जी का दर्शन पूजन भी किया है. इसके अलावा नृपेंद्र मिश्र राम जन्मभूमि परिसर में रामलला के मंदिर निर्माण की प्रगति का स्थलीय निरीक्षण का भी कार्यक्रम है.

UP में टीचर बनने का सुनहरा मौका, इस हफ्ते शुरू होंगे असिस्टेंट प्रोफेसर के पदों पर भर्ती के लिए आवेदन

कई वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक

दोपहर 3 बजे सर्किट हाउस में राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्यों , कमिश्नर एमपी अग्रवाल , जिलाधिकारी अनुज कुमार झा, आईजी डॉ संजीव कुमार, डीआईजी दीपक कुमार के साथ भी बैठक करेंगे. इसके साथ राम मंदिर निर्माण कार्य में लगी लार्सन एंड टूब्रो के विशेषज्ञ इंजीनियर, टाटा कंसलटेंसी के विशेषक इंजीनियर इस बैठक में शामिल होंगे. इस बैठक में राम मंदिर के लिए न्यू खुदाई के कार्य प्रगति के बारे में चर्चा होगी. बैठक में राम मंदिर की नींव में किन मैटेरियल का  प्रयोग किया जाना है उन पर भी चर्चा की जाएगी. इसके साथ ही राम जन्मभूमि परिसर की सुरक्षा के साथ-साथ राम मंदिर में आने वाले राम भक्त श्रद्धालुओं की सुविधाओं  के  बार में गहन चर्चा होगी.

40 फीट गहरी हो चुकी है नींव की खुदाई
सूत्रों के हवाले से जो खबर आ रही है कि अब तक 40 फीट गहरी नींव की खुदाई हो चुकी है. जिसमें 400 फीट पश्चिम से लेकर पूर्व तक और 250 फीट उत्तर से लेकर दक्षिण तक जन्म स्थान की मिट्टी को हटाई जा चुकी है. अब नींव के डिजाइन को फाइनल करने की बारी है और आज इस पर अहम चर्चा की जाएगी. 

26 फरवरी को सर्किट हाउस में अयोध्या के विकास को लेकर बैठक
26 फरवरी को सर्किट हाउस में बैठक के दूसरे दिन राम मंदिर निर्माण के साथ-साथ पूरे अयोध्या का किस तरीके से विकास हो इसके लिए सरकार द्वारा नियुक्त कंसलटेंट ली एसोसिएट साउथ एशिया प्राइवेट लिमिटेड उनकी सहयोगी कंपनी सीपी कुकरेजा आर्किटेक्ट, एलएनटी की विशेषज्ञ टीम के साथ सर्किट हाउस में बैठक की जाएगी. जिसमें अयोध्या विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष विशाल सिंह भी मौजूद रहेंगे.

योगी सरकार अभ्युदय योजना के तहत देगी फ्री टैबलेट, पाने के लिए ऐसे करें रजिस्ट्रेशन

WATCH LIVE TV