संभल: कांग्रेस और BJP कार्यकर्ताओं के बीच झड़प, पुलिस को करना पड़ा बीच-बचाव

कांग्रेस और बीजेपी के समर्थक एक-दूसरे से गाली गलौज करते हुए पुलिस की मौजूदगी में मार-पीट करने लगे. सीओ अशोक कुमार सिंह ने पुलिस कर्मियों की मदद से दोनों पार्टी के समर्थकों को काबू कर कांग्रेस जिला अध्यक्ष विजय शर्मा और समर्थकों को धारा 144 के उल्लंघन के आरोप में हिरासत में ले लिया. 

संभल: कांग्रेस और BJP कार्यकर्ताओं के बीच झड़प, पुलिस को करना पड़ा बीच-बचाव
सांकेतिक तस्वीर.

संभल: उत्तर प्रदेश के संभल के थाना क्षेत्र चंदौसी में बेरोजगारी के विरोध में प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस और बीजेपी के कार्यकर्ताओं के बीच जमकर झड़प हुई. दोनों दलों के कार्यकर्ताओं के बीच बात इतनी बिगड़ गई कि नौबत हाथापाई और गाली-गलौज तक आ गई. पुलिस ने जैसे-तैसे दोनों पार्टियों के लोगों को काबू किया, इसके बाद कांग्रेस के जिला अध्यक्ष समेत 1 दर्जन कार्यकर्ताओं को धारा 144 के उल्लंघन के आरोप में हिरासत में लिया.

ये भी पढे़ं: योगी सरकार के ''5 साल संविदा'' प्रस्ताव के विरोध में सड़कों पर युवा, समर्थन में आईं सपा और कांग्रेस

पीएम मोदी का पुतला फूंके जाने की फैली थी अफवाह 
दरअसल, संभल में कांग्रेस के जिला अध्यक्ष विजय शर्मा अपने समर्थकों के साथ बेरोजगारी के विरोध में बनाई गई अर्थी लेकर प्रदर्शन करने चंदौसी के फुब्बारा चौक पर पहुंचे थे. प्रर्दशन की तैयारी के दौरान सीओ अशोक कुमार सिंह ने जनपद में धारा 144 लागू होने का हवाला देते हुए प्रर्दशन करने से मना किया. इसी बीच किसी शख्स ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा पीएम मोदी का पुतला फूंके जाने की अफवाह फैला दी, जिसके बाद बीजेपी पिछड़ा वर्ग के जिला अध्यक्ष राजकुमार ठाकरे कई कार्यकर्ताओं के साथ फुव्वारा चौक आ गए. देखते ही देखते कांग्रेस और बीजेपी के समर्थक एक-दूसरे से गाली गलौज करते हुए पुलिस की मौजूदगी में मार-पीट करने लगे.

सीओ अशोक कुमार सिंह ने पुलिस कर्मियों की मदद से दोनों पार्टी के समर्थकों को काबू कर कांग्रेस जिला अध्यक्ष विजय शर्मा  को धारा 144 के उल्लंघन के आरोप में हिरासत में ले लिया. इस दौरान पुलिस ने जिला अध्यक्ष विजय शर्मा की कार पर लगे हूटर को भी उतरवा लिया. विजय शर्मा ने बीजेपी कार्यकर्ताओं पर मारपीट कर जानलेवा हमले का आरोप लगाते हुए चंदौसी थाने में तहरीर दी है.

WATCH LIVE TV