प्रधानमंत्री आवास योजना के नाम पर लोगों से ठगी, 8 लोगों के खिलाफ FIR

  प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान बनाने में दूसरा स्थान हासिल करने वाले  बुलंदशहर में योजना के नाम पर ठगी का मामला सामने आया है.

प्रधानमंत्री आवास योजना के नाम पर लोगों से ठगी, 8 लोगों के खिलाफ FIR
फाइल फोटो

मोहित गोमत/बुलंदशहर :  प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान बनाने में दूसरा स्थान हासिल करने वाले  बुलंदशहर में योजना के नाम पर ठगी का मामला सामने आया है. बुलंदशहर के कई इलाकों में  सभासद, उनके रिश्तेदार,  इंजीनियर और सर्वेयर आपस में सांठगांठ कर मकान की किश्त दिलाने के बहाने ठगी कर रहे हैं.जांच के बाद ऐसे लोगों पर एफआईआर दर्ज की गई हैं और कंपनी के इंजीनियर और सर्वेयरों को टर्मिनेट भी कराया गया है.

एडीएम फाइनेंस मनोज कुमार सिंघल ने बताया कि प्रशासन ने कंस्ट्रक्शन से पहले ही जियोटैग यानी फोटो कर सत्यापित करने वाली कंपनी आरईपीएल के इंजीनियर और कर्मचारी समेत 8 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है. जिनमें एक इंजीनियर,पांच सर्वेयर और 2 सभासदों के संबंधी के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, 406 में मामला दर्ज किया गया है.

ये भी पढ़ें : गुजरात में डायनासोर की मौजूदगी बताने वाले प्रो. अशोक को मिलेगा लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड

आपको बता दें कि 2017 में शुरू हुई प्रधानमंत्री आवास योजना में 2019 में बुलंदशहर जनपद को 17,768 घर बनवाने का लक्ष्य मिला था मगर नगरीय विकास विभाग ने लक्ष्य को भेदते हुए 18,500 लोगों को घर बनवाने की योजना से लाभान्वित कर दिया. जिससे उत्तर प्रदेश में बुलंदशहर को दूसरे स्थान का मुकाम हासिल हुआ. 

watch live tv: