UP: गौतम बुद्ध नगर के पहले पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने संभाला पदभार

पदभार संभालने के बाद आलोक सिंह ने जी मीडिया से खास बातचीत में कहा कि सबसे अहम होगा कि पुलिस नागरिकों के साथ भावनात्मक रूप से जुड़े.

UP: गौतम बुद्ध नगर के पहले पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने संभाला पदभार
हम ऐसी पुलिसिंग देंगे कि इन्वेस्टर्स के लिए ये सबसे अच्छी जगह बने: पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह

पवन त्रिपाठी/नोएडा: गौतम बुद्ध नगर (Gautam Buddh Nagar) जिले के पहले पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह (Police Commissioner Alok Singh) ने पदभार संभाल लिया है. साथ ही दो DCP राजेश सिंह और मीनाक्षी कात्यान ने भी अपना कार्यभार संभाल लिया.

पदभार संभालने के बाद आलोक सिंह ने जी मीडिया से खास बातचीत में कहा कि सबसे अहम होगा कि पुलिस नागरिकों के साथ भावनात्मक रूप से जुड़े. नोएडा का स्पेशल फीचर है, यहां की फ्लोटिंग पापुलेशन. उन्होंने महिला सुरक्षा के मुद्दा पर बताया कि यहां 4.5 लाख महिलाएं रोजाना काम पर जाती हैं. इसलिए डीसीपी की नियुक्ति की गई है और उनके साथ 400 महिला पुलिस कर्मी भी तैनात की जा रही हैं. लोगों की सुरक्षा के लिए 2 दिनों में ही 1600 पुलिस कर्मी बढ़ाये गए हैं.

उन्होंने कहा कि यहां कुछ क्रिमिनल्स औद्योगिक इलाके को प्रभावित कर रहे हैं. उनको भी ठीक किया जाएगा ताकि यहां विकास हो सके. हम ऐसी पुलिसिंग देंगे कि इन्वेस्टर्स के लिए ये सबसे अच्छी जगह बने. साइबर क्राइम रोकने के लिए भी हम अलग से प्रयास करेंगे.

नोएडा में कमिश्नरी सिस्टम लागू करने की जरूरत पर उन्होंने कहा कि दिल्ली और गुरुग्राम में भी कमिश्नरी सिस्टम लागू है. इसलिए यहां इस सिस्टम को लागू किया गया ताकि आपसी समन्वय बन सके. पुलिस सुधार के लिए नया कदम उठाया गया है. इस पर अनेक वर्षों से प्रस्ताव तैयार हो रहा था. लेकिन अंततः अब सिस्टम तैयार हुआ है. नोएडा में क्राइम एक बड़ी चुनौती है. यहां मल्टीनेशनल कंपनियां और ग्रामीण इलाके भी हैं. इसलिए भी कमिश्नरी सिस्टम के लिए नोएडा को चुना गया.

गौरव चंदेल हत्याकांड को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि पुलिस अपनी करवाई कर रही है. मुख्यमंत्री योगी ने उनके परिवार को आर्थिक सहायता देने की घोषणा भी की है. केस से जुड़े कुछ अहम सुराग हाथ लगे हैं, लेकिन हम अभी इसे मीडिया से साझा नहीं कर सकते. क्योंकि केस पर फर्क पड़ सकता है.