पड़ोसी से था परेशान, घर में बुलाया तांत्रिक और 5 लोगों की हो गई मौत, और फिर...

जिस तांत्रिक को पड़ोसी को परेशान करने के लिए तंत्र विद्या करने के लिए बुलाया उसी तांत्रिक ने परिवार के पांचों सदस्यों की जान ले ली.

पड़ोसी से था परेशान, घर में बुलाया तांत्रिक और 5 लोगों की हो गई मौत, और फिर...

 पीलीभीत/ मो0 तारिक: जिस तांत्रिक को पड़ोसी को परेशान करने के लिए तंत्र विद्या करने के लिए बुलाया उसी तांत्रिक ने परिवार के पांचों सदस्यों की जान ले ली. तांत्रिक ने जो दूध परिवार वालों को पीने के लिए दिया वही उनकी मौत का कारण बना. ऐसा ही एक मामला पीलीभीत पुलिस ने खुलासा किया है जिसमें तांत्रिक ने तंत्र विद्या का झांसा देकर घर के पांचों सदस्यों को जहरीला दूध पिलाकर मौत की नींद सुला दिया और घर में रखे लगभग पांच लाख रूपए लेकर फरार हो गया. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर तीन लाख से अधिक रूपए बरामद कर लिए हैं.

पुलिस के अनुसार आरोपी तांत्रिक है और तंत्र विद्या के चलते लोगों की समस्याओं को  दूर करने का दावा करता है इसी तंत्र विद्या का झांसा देकर इसने पीलीभीत के थाना जहानाबाद क्षेत्र के बेनीपुर गांव के एक ही परिवार के पांच लोगों को जहरीला दूध पिलाकर मौत के घाट उतार दिया है. और घर में रखे रूपए को लेकर फरार हो गया.

दरअसल मंगलवार (08 जनवरी) को उस वक्त हड़कंप मच गया था जब एक ही परिवार के 5 लोगों की संदिग्ध हालत में शव मिले. 55 वर्षीय वेगराज उनकी पत्नी मीना देवी, 28 साल का बेटा नेमचन्द्र, 25 साल की बेटी गायत्री व नेमचंद्र की पत्नी रामवती की घर में संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई. तीन दिन बाद पुलिस ने चौकाने वाला खुलासा करते हुए बताया कि तांत्रिक रेलवे मे गेटमेन की नौकरी करने वाला है.

मृतक नेमचंन्द्र का उसके पडोसी से विवाद चल रहा था और वह उसे परेशान देखना चाहता था. पड़ोसी को नुकसान पहुंचाने के इरादे से उसने बरेली के रहने वाले गुलषेर नाम के तांत्रिक से सम्पर्क किया और अपनी समस्या का हल करने की बात कही. नेमचन्द्र ने तांत्रिक को अपने घर में रखे रुपयों का भी जिक्र किया था.

घटना वाले दिन नेमचन्द्र ने तांत्रिक गुलषेर व उसके एक अन्य साथी को तंत्र मंत्र कराने के लिए घर पर बुलाया था. जहां पर पहले पूरे परिवार व तांत्रिक ने खाना खाया जिसके बाद तंत्र मंत्र की पूजा शुरू हुई. एडीजी प्रेम प्रकाश की माने तो तांत्रिक गुलशेर ने तंत्र विद्या करने के लिए घरवालों को गर्म दूध मंगाया और एक आटे का पुतला बनाया जिसकी पूजा पाठ करने के लिए उसने एक अकेला कमरा चुना उसी कमरे में तंत्र मंत्र की आड में तांत्रिक ने दूध में खेतो में पडने वाला जहरीली दवा नोमान मिलाकर दूध घरवालों को पीने को दे दिया तांत्रिक के कहे अनुसार घर के पांचों सदस्यों ने अपने विस्तर पर बैठकर जहरीला दूध पिया.

जहरीला दूध पीते ही घर के सभी सदस्य मौत की नींद में सो गये जिसके बाद तांत्रिक ने घर में रखे 5 लाख रुपये चोरी कर फरार हो गया. फिलहाल पुलिस ने आरोपी तांत्रिक गुलशेर को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से तीन लाख से अधिक रुपये बरामद कर लिए हैं. दूसरे साथी तांत्रिक की तलाश कर रही है और गुलशेर को जेल भेज दिया है.