close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विदेशी मीडिया ने भी माना योगी सरकार ने इन्सेफेलाइटिस पर कसी नकेल

2007 से 2016 के बीच, भारत के 22 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से लगभग 75,000 मामले राष्ट्रीय वेक्टर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम के अनुसार सामने आए थे. जिसमें 1978 से लगभग 25000 बच्चों की मौत हुई.

विदेशी मीडिया ने भी माना योगी सरकार ने इन्सेफेलाइटिस पर कसी नकेल
फाइल फोटो

लखनऊ: पूर्वी उत्तर प्रदेश (Eastern Uttar Pradesh) की महामारी इंसेफेलाइटिस (Encephalitis) पर योगी सरकार (Yogi Government) ने किस तरीके से अंकुश लगाया. दुनिया के बड़े मीडिया समूह (Foreign Media) ने इसे प्रमुखता से स्थान दिया है. 

जिन मीडिया समूहों ने प्रमुखता से छापा है उनमें वाशिंगटन पोस्ट, न्यू यॉर्क टाइम्स, ऑस्ट्रेलियन ब्राडकास्टिंग कॉरपोरेशन, वैंकुवर की सिटीन्यूज 1130 आदि शामिल हैं. खबर के जरिए बताया गया है कि कैसे भारत के सबसे अधिक आबादी वाले राज्य उत्तर प्रदेश ने इंसेफेलाइटिस या मस्तिष्क बुखार के मामलों को काबू में किया है.

2007 से 2016 के बीच, भारत के 22 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से लगभग 75,000 मामले राष्ट्रीय वेक्टर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम के अनुसार सामने आए थे. जिसमें 1978 से लगभग 25000 बच्चों की मौत हुई. लेकिन योगी सरकार ने सत्ता संभालते ही एक सुनियोजित व्यवस्था बनाकर इस जानलेवा बीमारी को काबू में किया है.

लाइव टीवी देखें

वाशिंगटन पोस्ट ने इस बात को भी रेखांकित किया है कि ग्रामीण क्लीनिक, डॉक्टरों और राज्य सरकार के अधिकारियों के नए नेटवर्क की वजह से एन्सेफलाइटिस के मामलों में तेजी से गिरावट आई है. स्टोरी में उत्तर प्रदेश सरकार के दस्तक अभियान को सराहा भी गया है.