LOCKDOWN की वजह से ऋषिकेश में फंसे विदेशी पर्यटक, नागरिकों को खोजने में जुटे दूतावास

कारोना वायरस को बढ़ने से रोकने के लिए देशभर में लॉकडाउन किया गया है. जो जहां है वहीं थम गया है. विदेशी नागरिक भी ऋषिकेश में लॉकडाउन की वजह से फंस गए हैं. गंगा तट पर योग और ध्यान सीखने आए करीब डेढ़ हजार विदेशी सैलानी अभी भी ऋषिकेश और उसके आसपास के क्षेत्रों में फंसे हुए हैं.

LOCKDOWN की वजह से ऋषिकेश में फंसे विदेशी पर्यटक, नागरिकों को खोजने में जुटे दूतावास
फाइल फोटो

मनमोहन भट्ट/देहरादून: कारोना वायरस को बढ़ने से रोकने के लिए देशभर में लॉकडाउन किया गया है. जो जहां है वहीं थम गया है. विदेशी नागरिक भी ऋषिकेश में लॉकडाउन की वजह से फंस गए हैं. गंगा तट पर योग और ध्यान सीखने आए करीब डेढ़ हजार विदेशी सैलानी अभी भी ऋषिकेश और उसके आसपास के क्षेत्रों में फंसे हुए हैं. कई देशों के दूतावास अपने नागरिकों से संपर्क नहीं कर पा रहे हैं.

बताया जा रहा  है कि ऋषिकेश में चीन, जापान और अमेरिका के अलावा यूरोपीय देशों के नागरिक भी फंसे हुए हैं. सबसे ज्यादा नागरिक चीन और जापान के हो सकते हैं. आपको बता दें कि चीन में फैले कोराना के प्रकोप के चलते कई पर्यटकों ने वापसी का रुख नहीं किया. लेकिन अब लॉक डाउन होने के बाद प्रशासन और दूतावास ज्यादा सक्रिय हो गए हैं.

इटली और फ्रांस ने खोजे अपने नागरिक
इटली और फ्रांस के दूतावासों ने अपने नागरिकों से किसी तरह संपर्क स्थापित किया. नागरिकों को दूतावास तक लाने का जिम्मा एक प्राइवेट कंपनी को दिया गया. 100 से ज्यादा विदेशी पर्यटकों के दल को कल देर रात दिल्ली में उनके दूतावास तक पहुंचाया गया. यहां से वापस इनके देश और घर भेजा जाएगा.

योग सीखने आए थे विदेशी साधक ऋषिकेश
आपको बता दें कि योग नगरी ऋषिकेश में अक्टूबर से मार्च तक बाजार विदेशी सैलानियों से  रौशन रहते हैं. इस दौरान विदेशी साधक यहां कई आश्रमों और छोटे-छोटे योग केंद्रों में आकर ध्यान की कई विधियां सीखते हैं. मार्च के महीने में होने वाला अंतरराष्ट्रीय योग महोत्सव तो दुनिया भर से विदेशियों को अपनी और आकर्षित करता है इसलिए इस दौरान ऋषिकेश में विदेशी सैलानियों की भीड़ भाड़ काफी बढ़ जाती है. 

ये भी पढ़ें : COVID-19 से जंग लड़ रहे 'योद्धाओं' के लिए योगी सरकार ने अधिग्रहित किए लखनऊ के 4 बड़े होटल

तीन जिलों में फैला हुआ है योग क्षेत्र

ऋषिकेश योग के लिए पूरी दुनिया भर में जाना जाता है। लेकिन ऋषिकेश योग क्षेत्र 3 जिलों में फैला हुआ है. देहरादून, टिहरी और पौड़ी गढ़वाल का 20 से 25 किलोमीटर का पूरा क्षेत्र है यहां योग साधक योग सीखने के लिए पहुंचते हैं. लेकिन प्रशासकीय क्षेत्र 3 जिलों में होने के कारण कई बार साधकों के बारे में सटीक जानकारी ले पाना मुश्किल होता है.

WATCH LIVE TV: