हिंदुओं को लेकर विवादित बयान देने वाले शरजील उस्मानी के खिलाफ लखनऊ में FIR

बीती 30 जनवरी को पुणे में एल्गार परिषद के कार्यक्रम में सरजील ने विवादित बयान दिया था. उस पर 153A, 153B, 295A, 298 समेत 10 गम्भीर धाराओं में मामला मुकदमा दर्ज कराया गया है.

हिंदुओं को लेकर विवादित बयान देने वाले शरजील उस्मानी के खिलाफ लखनऊ में FIR
शरजील ने कहा था- आज का हिंदू समाज हिंदुस्तान में बुरी तरीके से सड़ चुका है

लखनऊ: अलीगढ़ यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र नेता सरजील उस्मानी (Sharjeel Usmani) पर एफआईआर दर्ज हो गई है. राजधानी के हजरतगंज कोतवाली में कृष्णा नगर के रहने वाले अनुराग सिंह (Anurag Singh) ने उसके खिलाफ मामला दर्ज कराया है. बीती 30 जनवरी को पुणे में एल्गार परिषद के कार्यक्रम में सरजील ने विवादित बयान दिया था. उस पर 153A, 153B, 295A, 298 समेत 10 गम्भीर धाराओं में मामला मुकदमा दर्ज कराया गया है.

CM योगी ने किया ट्वीट- भारत जीता जागता राष्ट्रपुरुष, हम इसके लिए जिएंगे और मरेंगे

बीते बुधवार को महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल (Chandrakant Patil) ने इस मामले को लेकर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) को चिट्ठी लिखी थी. पाटिल ने सीएम योगी को लिखा कि क्योंकि शरजील उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ का रहने वाला है, ऐसे में यूपी पुलिस उसे गिरफ्तार करे. उन्होंने अपने पत्र में हिंदूओं के अपमान की भी बात कही थी.

क्या योगी सरकार करेगी शरजील उस्मानी को गिरफ्तार? महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष ने की अपील

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) के पूर्व छात्र शरजील उस्मानी (Sharjeel Usmani) के खिलाफ पुणे में मामला दर्ज किया गया है. उनके ऊपर आरोप लगाया गया है कि उन्होंने एल्गार परिषद में दिए भाषण के जरिए विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ाया है.

क्या दिया था बयान?
पुणे में 30 जनवरी को उत्तर प्रदेश के शरजील (Sharjeel Usmani) ने हिंदू धर्म को लेकर विवादित बयान दिया था. उसने अपने भाषण के दौरान कहा था, "आज का हिंदू समाज हिंदुस्तान में बुरी तरीके से सड़ चुका है." इस बयान के बाद से महाराष्ट्र समेत पूरे देश में राजनीतिक माहौल गर्म हो गया है. भारतीय जनता पार्टी (BJP) लगातार शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस की गंठबधन सरकार पर दवाब बना रही थी.