सेना में भर्ती करवाने के नाम पर वसूलते थे लाखों, पुलिस ने फिल्मी अंदाज में दबोचा

ये गिरोह सेना में भर्ती करवाने के नाम पर अभ्यर्थी से करीब 5 से 10 लाख की रकम वसूलता था. मामले की जांच में सामने आया कि आरोपियों ने कुछ ऐसे लोगों को अपना शिकार बनाया, जो अपनी जमीन तक गिरवी रख आए थे.

सेना में भर्ती करवाने के नाम पर वसूलते थे लाखों, पुलिस ने फिल्मी अंदाज में दबोचा
फाइल फोटो

ग्रेटर नोएडा: भारतीय सेना (Indian Army) में नौकरी दिलाने के नाम पर फर्जीवाड़ा करने वाले गिरोह का भंडाफोड हुआ है. ग्रेटर नोएडा पुलिस ने शातिराना अंदाज़ से इस गिरोह के सदस्यों को गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि गिरोह के सदस्य सेना के अधिकारियों की मिलीभगत से मेडिकल टेस्ट में अभ्यर्थी को पास करवा देते थे. गौर करने वाली बात ये है कि, सेना में भर्ती करवाने वाले इस गिरोह का मास्टर माइंड कोई और नहीं बल्कि रिटायर्ड फौजी है.

पुलिस ने इस गिरोह का भंडाफोड़ बड़े की शातिराना अंदाज़ से किया. दरअसल, पुलिस आरोपियों के पास अभ्यर्थी बनकर पहुंची और मौके देखते ही सभी को धरदबोचा. इस पूरे मामले में सेना के अधिकारियों की मिलीभगत भी सामने आई है. हालांकि, पुलिस ने अभी तक किसी भी सेना के अधिकारी के नाम का खुलासा नहीं किया है.

मामले की शुरूआती जांच में सामने आया कि बुलंदशहर (Bulandshahr) के रहने वाले आरोपी अब तक सैकड़ों लोगों को भारतीय सेना में भर्ती करवाने का झांसा दे चुके थे. ये गिरोह सेना में भर्ती करवाने के नाम पर अभ्यर्थी से करीब 5 से 10 लाख की रकम वसूलता था. 

मामले की जांच में ये भी सामने आया कि गिरोह के सदस्यों ने कुछ ऐसे लोगों को अपना शिकार बनाया, जो अपनी जमीन तक गिरवी रख आए थे. इस पूरे मामला का ग्रेटर नोएडा(Greater Noida) की बादलपुर पुलिस ने खुलासा किया है.