शाहजहांपुर: बेटे के साथ गैंगरेप पीड़िता ने खुद को लगाई आग, शिकायत पर कार्रवाई नहीं कर रही थी पुलिस

मामला सामने आने के बाद एसपी ने थानाध्यक्ष को कार्रवाई के निर्देश दिए हैं.

शाहजहांपुर: बेटे के साथ गैंगरेप पीड़िता ने खुद को लगाई आग, शिकायत पर कार्रवाई नहीं कर रही थी पुलिस
प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली/शाहजहांपुर: उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में गैंगरेप से आहत एक महिला का अपने बच्चे के साथ आत्मदाह करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. जानकारी के मुताबिक, महिला की मौत हो गई है, जबकि उसके बच्चे की हालत गंभीर बनी हुई है. बताया जा रहा है कि महिला के साथ पिछले छह महीने से गैंगरेप हो रहा था. पुलिस से शिकायत के बाद भी आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई. जिसके बाद महिला ने खुद को आग लगा ली. मामला सामने आने के बाद एसपी ने थानाध्यक्ष को कार्रवाई के निर्देश दिए हैं.

मामला थाना परौर का है. मरने से पहले अस्पताल में महिला ने बयान दिया कि छह महीने पहले मुकेश यादव, प्रमोद यादव और विनय कुशवाहा ने उसका गैंगरेप किया था. घटना के बाद से लगातार उसके साथ गैंगरेप किया जा रहा था और शिकायत मुंह खोलने पर बेटे को मारने की धमकी मिल रही थी. लेकिन, एक महीना पहले हिम्मत करके उसने अपने पति को पूरी घटना बताई, जिसके बाद पुलिस में शिकायत की गई. 

ये भी पढ़ें: शाहजहांपुर में हॉरर किलिंग, जांच में जुटी पुलिस

आरोप है कि पुलिस ने दबंगों के खिलाफ कार्रवाई करने के बजाए जबरन आरोपियों के साथ समझौता करवाने को कह रहे थे. मरने से पहले महिला ने बताया कि दबंगों ने 18 अगस्त को फिर उसके साथ गैंगरेप किया. महिला ने जब आरोपियों को दोबारा पुलिस में जाने की बात कही, तो आरोपियों ने फिर बच्चे की हत्या करने की धमकी दी. 

एसपी ने कहा कि रेप पीड़ित के आत्मदाह के मामले में तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है. आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. पुलिस पर लापरवाही के आरोपों की जांच की जा रही है. इसमें जो दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ कार्रवाई होगी.