2021 में फरवरी के अंत तक ग्रेटर नोएडा के लोगों के घर तक पहुंचेगा गंगाजल

औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने वर्षों से लंबित चल रही 210 MLD क्षमता की गंगाजल परियोजना को फरवरी तक पूरा करने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि तिथि तय होने के बाद समय पर काम पूरा होना चाहिए. औद्यौगिक विकास मंत्री ने निर्देश दिए कि 28 फरवरी को गंगाजल परियोजना का लोर्कापण हो जाए.

2021 में फरवरी के अंत तक ग्रेटर नोएडा के लोगों के घर तक पहुंचेगा गंगाजल
प्रतीकात्मक फोटो

गौतमबुद्धनगर: गंगाजल परियोजना का लाभ ग्रेटर नोएडा में रहने वाले लोगों को अगले साल तक मिल सकेगा. औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने बुधवार को गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय में नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना प्राधिकरण के अफसरों के साथ समीक्षा बैठक की. इस दौरान उन्होंने गंगाजल परियोजना को अगले साल फरवरी महीने तक पूरा करने के निर्देश दिए. 

अगले वर्ष तक मिल जाएगा ग्रेटर नोएडा को गंगाजल 
औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने वर्षों से लंबित चल रही 210 MLD क्षमता की गंगाजल परियोजना को फरवरी तक पूरा करने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि तिथि तय होने के बाद समय पर काम पूरा होना चाहिए. औद्यौगिक विकास मंत्री ने निर्देश दिए कि 28 फरवरी को गंगाजल परियोजना का लोर्कापण हो जाए, ताकि लोगों को पानी मिल सके.

इसे भी पढ़िए: गौतमबुद्ध नगर में 31 जुलाई तक लागू रहेगी धारा 144, नियम तोड़े तो होगी कड़ी कार्रवाई 

औद्योगिक निवेश का भी ब्यौरा मांगा 
मंत्री सतीश महाना ने तीनों प्राधिकरणों से औद्योगिक निवेश का ब्यौरा मांगा और उसकी प्रगति रिपोर्ट भी जानी. तीनों प्राधिकरणों के CEO ने प्रजेंटेशन के जरिये अपनी बात रखी और बताया कि किस तरह से काम चल रहा है. यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण अपने क्षेत्र में उद्योगों को बढ़ावा देगा और 40 फीसदी जमीन उद्योगों के लिए रहेगी. किसानों और प्राधिकरण के बीच लैंड पूलिंग होगी, इससे किसानों को फायदा मिलेगा. सरकार ने तीनों प्राधिकरणों से औद्योगिक विकास को लेकर सुझाव मांगे हैं. 

WATCH LIVE TV