जरा संभलकर: किसी को यूं ही बता देंगे OTP तो आपके साथ भी हो सकता है ऐसा !

 इस तरह के कॉल सेंटर लगातार पकड़े भी जा रहे हैं. कम मेहनत में ज्यादा कमाई को लेकर इस तरह के कॉल सेंटर्स खोले जा रहे हैं और लोगों को चूना लगाया जा रहा है.  

जरा संभलकर: किसी को यूं ही बता देंगे OTP तो आपके साथ भी हो सकता है ऐसा !
प्रतीकात्मक फोटो

गाजियाबाद: पुलिस ने यहां एक ऐसे फर्जी कॉल सेंटर का खुलासा किया है, एक ओटीपी के जरिये लोगों का पूरा का पूरा अकाउंट ही खाली कर देता था. कुल 9 लोग मिलकर ये फर्जी कॉल सेंटर चलाते थे. लोगों को फोन कर उनसे ओटीपी निकलवाना और फिर उनके अकाउंट को खाली कर देना इनका धंधा था. पुलिस इस गैंग तक पहुंचने में तब कामयाब हो पाई, जब गाजियाबाद की एक महिला ने अपने साथ हुई लाखों की ठगी की शिकायत की. 

इश्योरेंस कंपनी से खरीदते थे डेटा 
गैंग में कुल 9 लोग शामिल थे. पुलिस के मुताबिक ये लोग इंश्योरेंस कंपनी से लोगों का डेटा खरीदा करते थे. शातिर ठग जिसकी इंश्योरेंस खत्म हो रही होती थी उसको कंपनी का कॉल सेंटर बता कर फोन किया करते थे. उसके बाद उसके फोन पर आए ओटीपी को लेकर उसके खाते में जितने भी पैसे होते थे, निकाल लेते थे. 

गणतंत्र दिवस के दिन रखी जाएगी अयोध्या में मस्जिद की नींव, इसी हफ्ते सामने आएगा खाका 

महाराष्ट्र से जुड़े गैंग के तार 
पुलिस के मुताबिक इनका गैंग महाराष्ट्र से भी संचालित होता था. उसके बाद इन्होंने अपना नया ठिकाना गाजियाबाद बना लिया था. पुलिस के मुताबिक ये लोग कहीं भी ज्यादा दिन नहीं रुकते थे और कुछ दिनों में ही पैसे हड़पकर फरार हो जाया करते थे. इनका कॉल सेंटर एक कॉर्पोरेट कंपनी की तरह चलता था, जहां अकाउंट का ध्यान रखने के लिए अलग कर्मचारी था. डेटा लेने के लिए अलग कर्मचारी था और फोन करने के लिए अलग कॉलर.

9 गिरफ्त में, 2 फरार
एसपी सिटी अभिषेक वर्मा ने बताया कि पुलिस ने इस गैंग के नौ लोगों को गिरफ्तार कर लिया है, हालांकि इनको इंश्योरेंस कंपनी का डाटा देने वाले 2 लोग अभी भी फरार हैं. पुलिस ने इनके कब्जे से कॉल सेंटर में काम आने वाला सामान भी बरामद किया है. आपको बता दें कि इस तरह के कॉल सेंटर लगातार पकड़े भी जा रहे हैं. कम मेहनत में ज्यादा कमाई को लेकर इस तरह के कॉल सेंटर्स खोले जा रहे हैं और लोगों को चूना लगाया जा रहा है.  

WATCH LIVE TV