ग्राम पंचायत अधिकारी को पूर्व ब्लाक प्रमुख ने कमरे में बुलाकर पीटा, जानिए पूरा मामला?

उनको देखते ही पूर्व ब्लाक प्रमुख ने गंदी-गंदी गालियां दी. जब उन्होंने इसका विरोध किया तो पूर्व ब्लाक प्रमुख ने अपने सहयोगियों के साथ लात, जूता, थप्पड़ से मारकर उन्हें घायल कर दिया.       

ग्राम पंचायत अधिकारी को पूर्व ब्लाक प्रमुख ने कमरे में बुलाकर पीटा, जानिए पूरा मामला?
सांकेतिक

संतकबीर नगर: विकास खंड हैंसर बाजार में तैनात एक ग्राम पंचायत अधिकारी ने पूर्व प्रमुख पर सोमवार को कक्ष में बुलाकर चप्पल से मारने-पीटने का आरोप लगाया है. देर शाम पीड़ित ग्राम पंचायत अधिकारी ने धनघटा थाने पहुंच कर पुलिस को तहरीर दी. पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.

Weather Update: जोरदार बारिश से हुई दिल्ली-एनसीआर वालों की सुबह, मौसम हुआ सुहावना

यहां का है पूरा मामला
ब्लाक प्रमुख कक्ष में बुलाकर पीटा

थाने में दी गई तहरीर में चंदन सिंह पुत्र शिव मोहन सिंह ने जिक्र किया है कि वह हैंसर बाजार ब्लाक में ग्राम पंचायत अधिकारी के पद पर तैनात हैं. हैंसर बाजार के पूर्व ब्लाक प्रमुख प्रिस अगम सिंह ने सोमवार को दिन में करीब साढ़े तीन बजे उन्हें फोन करके ब्लाक प्रमुख कक्ष में बुलाया. वो वहां प्रमुख की कुर्सी पर बैठकर कर्मचारियों को धमका रहे थे. इसी दौरान वह उनके कक्ष में पहुंच गए. उनको देखते ही पूर्व ब्लाक प्रमुख ने गंदी-गंदी गालियां दी. जब उन्होंने इसका विरोध किया तो पूर्व ब्लाक प्रमुख ने अपने सहयोगियों के साथ लात, जूता, थप्पड़ से मारकर उन्हें घायल कर दिया. किसी तरह जान बचाकर वह बाहर निकले.

बच्ची को बचाने के लिए खूंखार भेड़िए से भिड़ गया छोटा सा डॉगी, देखिए कैसे कर रहा मुकाबला?

सरकारी अभिलेख छीन लेने का आरोप

ग्राम पंचायत अधिकारी के चिल्लाने पर ब्लाक के कर्मियों ने मौके पर पहुंचकर बीच-बचाव किया. पिटाई में घायल हुए कर्मी ने सरकारी अभिलेख छीन लेने का आरोप लगाया है. इसके साथ ही सरकारी अभिलेख फाड़ देने का भी आरोप मढ़ा. आरोप है कि जानमाल की धमकी भी दी गई. 

पुलिस मामले की जांच में जुटी
जबकि पूर्व प्रमुख प्रिंस अगम सिंह ने कहा कि ग्राम पंचायत अधिकारी चंदन सिंह से उनका कोई लेना-देना नहीं और उनके ऊपर लगाए गए सारे आरोप गलत और निराधार हैं. पंचायत अधिकारी की तहरीर पर धनघटा पुलिस ने पूर्व ब्लाक प्रमुख और उनके सहयोगियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है. इस मामले में पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जाएगी. जांच में सत्यता के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

डा. कौस्तुभ, एसपी ने कहा है कि थानेदार को पूर्व ब्लाक प्रमुख समेत अन्य अरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. किसी की भी दबंगई बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

मंदिर के सहारे चला 5 करोड़ का ब्राह्मण कार्ड, बीजेपी विधायक ने रखी परशुराम मंदिर की आधारशिला

सामान से भरे ठेले को खींच रहा था शख्स, फिर डॉगी ने जो किया उसे देख कहेंगे-'तेरे जैसा यार कहां'

WATCH LIVE TV