उत्तर प्रदेश में 50 फीसदी स्टाफ के साथ सरकारी दफ्तर आज से काम पर, इन खास नियमों का होगा पालन

 नई व्यवस्था के मुताबिक सरकारी दफ्तरों में सुबह 9 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक, सुबह 10 बजे से लेकर शाम 6 बजे तक और सुबह 11 बजे से लेकर शाम 7 बजे तक 3 पालियों में काम किया जाएगा. दफ्तर में काम करते वक्त सोशल डिस्टेंसिंग (social distancing) के साथ-साथ कर्मचारियों की सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जाएगा. दफ्तर आने वाले सभी कर्मचारियों को अपने फोन में आरोग्य सेतु ऐप रखना भी अनिवार्य होगा. 

उत्तर प्रदेश में 50 फीसदी स्टाफ के साथ सरकारी दफ्तर आज से काम पर, इन खास नियमों का होगा पालन
प्रतीकात्मक फोटो

लखनऊ: कोरोना वायरस (coronavirus) के चलते पूरे देश में लगे लॉकडाउन (Lockdown) को धीरे-धीरे खोला जा रहा है. चौथे लॉकडाउन के दौरान मिली रियायतों के बाद लोगों की जिंदगी पटरी पर आ रही है. इसी सिलसिले में उत्तर प्रदेश सरकार (Yogi government) ने सरकारी दफ्तरों को भी काम पर लगाने का फैसला कर लिया है. योगी सरकार के आदेश के मुताबिक आज से यूपी में सभी सरकारी दफ्तरों में काम-काज शुरू हो जाएगा. हालांकि इस दौरान यहां स्टाफ भी कम होगा और कोरोना से बचने के लिए कुछ खास नियम भी लागू रहेंगे.

3 शिफ्टों में होगा काम 
उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आके तिवारी के जारी किए गए आदेश के मुताबिक सभी सरकारी दफ्तरों में 50 फीसदी स्टाफ के साथ ही काम शुरू किया जाएगा. आदेश के मुताबिक, अब सरकारी दफ्तरों में 3 शिफ्टों में काम होगा, जिसकी रूपरेखा भी तैयार है. नई व्यवस्था के मुताबिक सरकारी दफ्तरों में सुबह 9 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक, सुबह 10 बजे से लेकर शाम 6 बजे तक और सुबह 11 बजे से लेकर शाम 7 बजे तक 3 पालियों में काम किया जाएगा. दफ्तर में काम करते वक्त सोशल डिस्टेंसिंग (social distancing) के साथ-साथ कर्मचारियों की सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जाएगा. दफ्तर आने वाले सभी कर्मचारियों को अपने फोन में आरोग्य सेतु ऐप रखना भी अनिवार्य होगा. 

इसे भी पढ़ें : फरार पूर्व विधायक अशरफ की तलाश में बाहुबली अतीक अहमद के घर पर छापेमारी

उत्तर प्रदेश में कोरोना से जुड़ी राहत की खबर 
कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच उत्तर प्रदेश से राहत भरी खबर आई. सरकार के मुताबिक, 11 मई से यूपी में कोरोना के एक्टिव केस कम हुए हैं और कोविड-19 (COVID-19) संक्रमित रोगियों के ठीक होने की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद के मुताबिक उत्तर प्रदेश में कोरोना के 2606 एक्टिव केस हैं. जबकि, 3581 रोगी पूरी तरह स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किए जा चुके हैं. अब तक कोरोना से 165 लोगों की मौत भी हुई है.

WATCH LIVE TV