राज्यपाल कल्याण सिंह की टिप्पणी का मामला, तथ्यों की जांच के बाद EC लेगा फैसला

बीजेपी ने 21 मार्च को सांसद सतीश गौतम को लोकसभा प्रत्याशी घोषित किया था. जिसके बाद कुछ लोग बीजेपी के इस फैसले से खुश नजर नहीं और विरोध करने लगे. 

राज्यपाल कल्याण सिंह की टिप्पणी का मामला, तथ्यों की जांच के बाद EC लेगा फैसला
कल्याण सिंह ने अलीगढ़ में अपने आवास पर पीएम मोदी को जिताने की बात कही थी.

अलीगढ़: राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह द्वारा कुछ दिन पहले मैरिस रोड स्थित अपने आवास राज पैलेस पर दिए गए अपने एक बयान के कारण वह परेशानियों में घिरते हुए नजर आ रहे हैं. दरअसल, अपने आवास पर उन्होंने मीडिया के सामने वहां मौजूद कई लोगों से कहा था कि पीएम नरेंद्र मोदी को दोबारा पीएम चुनना है और उन्हें जिताना है. इस बयान पर अब चुनाव आयोग ही अंतिम फैसला लेगा. इस मामले में जिला प्रशासन द्वारा बुधवार रात को ही विस्तृत रिपोर्ट भेजी गई है. रिपोर्ट के साथ साथ कल्याण सिंह के बयान का वीडियो और अखबारों में प्रकाशित खबरों की कटिंग को भी भेजा गया है. 

यह है पूरा मामला
बीजेपी ने 21 मार्च को सांसद सतीश गौतम को लोकसभा प्रत्याशी घोषित किया था. जिसके बाद कुछ लोग बीजेपी के इस फैसले से खुश नजर नहीं और विरोध करने लगे. इस दौरान राज्यपाल कल्याण सिंह भी अलीगढ़ आए हुए थे. यहां सतीश गौतम को टिकट दिए जाने का विरोध करते हुए कुछ लोग कल्याण सिंह के आवास पर पहुंच गए और सतीश के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. हालांकि, उस दिन कल्याण सिंह ने कोई बयान नहीं दिया. 

जिसके बाद अगले दिन फिर के लोग सतीश का विरोध करने के लिए कल्याण सिंह के घर पहुंचे. यहां कल्याण सिंह ने मीडिया के सामने लोगों को समझाते हुए कहा कि हाईकमान के फैसले का स्वागत करें. उन्होंने कहा, हमें फिर से पीएम मोदी को ही प्रधानमंत्री बनाना है. जिसके बाद यह मामला मीडिया में छा गया और कल्याण सिंह के बयान का वीडियो भी काफी वायरल हुआ. कल्याण सिंह के इस बयान पर निर्वाचन आयोग ने इस पर संज्ञान लेते हुए डीएम को फोन कर रिपोर्ट मांगी है. इस मामले में डीएम द्वारा चुनाव आयोग को रिपोर्ट भेज दी गई है. अब चुनाव आयोग ही मामले में फैसला लेगा.