हाथरस मामले में पीड़ित परिवार की आजादी पाने की अर्जी को हाईकोर्ट ने किया खारिज

याचिकाकर्ता सुरेंद्र कुमार ने बताया कि पीड़ित परिवार ने उन्हें फोन कर उनकी तरफ से अर्जी दाखिल करने और कोर्ट से दखल देने की मांग की है.

हाथरस मामले में पीड़ित परिवार की आजादी पाने की अर्जी को हाईकोर्ट ने किया खारिज
फाइल फोटो.

हाथरस: हाथरस के पीड़ित परिवार की तरफ से सामाजिक कार्यकर्ता सुरेंद्र कुमार द्वारा दाखिल अर्जी को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया है. बता दें, इससे पहले कोर्ट ने सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित किया था.

 

हाथरस मामले में SIT ने बढ़ाई जांच की रफ्तार, जल्द सुलझ सकती है गुत्थी 

सामाजिक कार्यकर्ता सुरेंद्र कुमार ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में एक अर्जी दाखिल की थी कि परिवार को लोगों से मिलने-जुलने दिया जाए. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने इस अर्जी पर सुनवाई पूरी कर फैसला सुरक्षित कर लिया है. जल्द ही फैसला सुनाया जाएगा.

अर्जी में पीड़ित परिवार को लोगों से मिलने जुलने की पूरी छूट दिए जाने और अपनी बात खुलकर रखे जाने की मांग की गई है. अर्जी में कहा गया है कि पुलिस-प्रशासन की बंदिशों के चलते पीड़ित परिवार घर में कैद सा होकर रह गया है. बंदिशों के चलते तमाम लोग उनसे मिलने नहीं आ पा रहे हैं. साथ ही परिवार किसी से खुलकर अपनी बात नहीं कह पा रहा है. 

पीड़ित परिवार ने आरोप लगाया है कि सरकारी अमला उन्हें घर से बाहर नहीं निकलने दे रहा है. इंसाफ पाने के लिए पीड़ित परिवार से बंदिशें हटना जरूरी है. याचिकाकर्ता सुरेंद्र कुमार ने बताया कि पीड़ित परिवार ने उन्हें फोन कर उनकी तरफ से अर्जी दाखिल करने और कोर्ट से दखल देने की मांग की है.

WATCH LIVE TV