UP: DGP चयन प्रक्रिया को IPS अधिकारी ने दी हाईकोर्ट में चुनौती, कल होगी सुनवाई

जेएल त्रिपाठी ने कोर्ट में चयन प्रक्रिया के खिलाफ दी शिकायत में कहा है कि वो सूबे के वरिष्ठ अधिकारी हैं, लेकिन संघ लोक सेवा आयोग को भेजी गई संभावित डीजीपी की लिस्ट में उनका नाम ही नहीं है.

UP: DGP चयन प्रक्रिया को IPS अधिकारी ने दी हाईकोर्ट में चुनौती, कल होगी सुनवाई
IPS अधिकारी जेएल त्रिपाठी की ओर से दायर याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई होगी.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में पुलिस महकमे के सबसे बड़े पद की चयन प्रक्रिया को लेकर IPS अधिकारी ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की है. वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी और महानिदेशक (नागरिक सुरक्षा) जेएल त्रिपाठी ने हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ में DGP की मौजूदा चयन प्रक्रिया को चुनौती दी है. जेएल त्रिपाठी (J L Tripathi) की ओर से दायर याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई होगी.

दरअसल, उत्तर प्रदेश के वर्तमान पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह (DGP OP Singh) आगामी 31 जनवरी को सेवानिवृत्त हो रहे हैं. ऐसे में नए पुलिस महानिदेशक की तलाश तेज हो गई है. उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) को 7 नामों का पैनल भेजा गया है. जिसमें से तीन नामों का चयन होगा. लेकिन, इस पैनल में 1986 बैच के अधिकारी जेएल त्रिपाठी का नाम नहीं है. जबकि, ग्रेडेशन सूची के अनुसार जेएल त्रिपाठी राज्य में तीसरे वरिष्ठतम अधिकारी हैं.

जेएल त्रिपाठी ने कोर्ट में चयन प्रक्रिया के खिलाफ दी शिकायत में कहा है कि वो सूबे के वरिष्ठ अधिकारी हैं, लेकिन संघ लोक सेवा आयोग को भेजी गई संभावित डीजीपी की लिस्ट में उनका नाम ही नहीं है. जबकि उनसे जूनियर अधिकारियों का नाम लिस्ट में शामिल है, जो कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन है.

ये भी पढ़ें: UP: डीजीपी ओपी सिंह को नहीं मिलेगा सेवा विस्तार, लोक सेवा आयोग को भेजे गए 7 नाम