राम मंदिर बनाए बिना 2019 में भाजपा की नैया पार नहीं होगी : हिन्दू महासभा

हिन्दू महासभा ने शीघ्र कानून बनाने की मांग की है. मुन्ना कुमार शर्मा ने कहा है कि राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर बनाए बिना 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा की नैया पार नहीं होगी. ये हिदायत हमने पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव से पूर्व ही दिया था. विभिन्न न्यूज चैनलों के एग्जिट पोल सर्वेक्षण से हमारी हिदायत सच साबित हुई है.

राम मंदिर बनाए बिना 2019 में भाजपा की नैया पार नहीं होगी : हिन्दू महासभा

नई दिल्ली, विकास चौधरी : अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा ने कहा कि रामजन्मभूमि पर भव्य मंदिर नहीं बनाया, तो हिंदुस्तान के हिन्दू स्वयं मन्दिर का निर्माण कर देंगे, जैसे कि छह दिसंबर 1992 को कारसेवकों ने विवादित ढांचे को गिराया था. साथ ही कहा कि यदि बीजेपी सरकार ने शीघ्र ही इस दिशा में निर्णायक कदम नहीं उठाया, तो आगे की राजनीति से अप्रासंगिक हो जाएगी और राम मंदिर बनाए बिना उन्नीस में भाजपा की नैया पार नहीं होगी.

राम मंदिर बनाए बिना उन्नीस में भाजपा की नैया पार नहीं होगी. हिन्दू महासभा ने शीघ्र कानून बनाने की मांग की है. मुन्ना कुमार शर्मा ने कहा है कि राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर बनाए बिना 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा की नैया पार नहीं होगी. ये हिदायत हमने पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव से पूर्व ही दिया था. विभिन्न न्यूज चैनलों के एग्जिट पोल सर्वेक्षण से हमारी हिदायत सच साबित हुई है. अब यदि केंद्र और उत्तरप्रदेश की सरकार ने शीघ्र ही श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर के निर्माण का रास्ता साफ नहीं किया, तो 2019 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को केंद्र की सत्ता से बाहर होना पड़ेगा.

वहीं आज बागपत में केंद्रीय मंत्री डॉ सत्यपाल सिंह का राम मंदिर निर्माण को लेकर एक बड़ा बयान आया है और उन्होंने यहां बोलते हुए अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण जल्द होने का भरोसा दिलाते हुए कहा है कि देश भर में जो राम मंदिर के लिए लोगो की आवाज उठा रही है ओर अयोध्या में हुई धर्म संसद हो या दिल्ली में होने वाली धर्म संसद हो ये सारी बाते सरकार के संज्ञान में है ओर इस देश के करोड़ो लोग चाहते है कि जल्दी से जल्दी राम मंदिर बनाया जाए.

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर देशभर से लोगो की आवाज जोर शोर से उठ रही है. वहीं हाल ही में अपने पद से इस्तीफा दे चुकी बीजेपी सांसद सावित्रीबाई फुले ने कहा कि राम मंदिर के मुद्दे पर विश्व हिंदू परिषद, भाजपा और आरएसएस से जुड़े संगठनों द्वारा अयोध्या में 1992 जैसी स्थिति पैदा कर समाज में विभाजन और सांप्रदायिक तनाव की स्थिति पैदा करने की कोशिश की जा रही है. फुले ने कहा कि भाजपा समाज में विभाजन पैदा करने का प्रयास कर रही है.