close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दहेज के लोभी पति ने 7 महीने की गर्भवती पत्नी को जहर देकर मारा, उम्र कैद की सजा

आरोप के मुताबिक उसके ससुराल वाले इसके अतिरिक्त उसे एक मोटर साइकिल और डेढ़ लाख रुपए नकद देने की मांग करते थे. 

दहेज के लोभी पति ने 7 महीने की गर्भवती पत्नी को जहर देकर मारा, उम्र कैद की सजा
.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

मथुरा: उत्तरप्रदेश के मथुरा जनपद में करीब साढ़े तीन वर्ष पूर्व दहेज के लिए पत्नी को जहर देकर मार डालने के आरोपी पति को दोषी करार देते हुए यहां की सेशन कोर्ट ने उसे उम्र कैद की सजा सुनाई है और उस पर सात हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है.

अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश (फास्ट ट्रैक कोर्ट प्रथम - महिला संबंधी) सुरेन्द्र कुमार ने गुरुवार को दिए फैसले में मृतका की सास विमला देवी, जेठ रवि एवं जेठानी सीमा देवी को दोषमुक्त करार दिया है. सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता भगत सिंह आर्य ने बताया, ‘‘मामला 27 नवम्बर 2015 का है जब मगोर्रा थाने के गांव नगरिया गांव निवासी चंदन सिंह ने अपनी बेटी को जहर देकर मार डालने के आरोप में बंडपुरा गांव निवासी उसके पति धर्मेंद्र, ससुर वीरेंद्र सिंह, सास विमला देवी, जेठ रवि एवं जेठानी सीमा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था.’’

पुलिस ने धर्मेंद्र को गिरफ्तार करने के बाद अदालत में आरोपपत्र दाखिल किया जिसमें बताया गया था कि वादी चंदन सिंह ने उसी वर्ष 30 जनवरी को अपनी पुत्री प्रीति की शादी धर्मेंद्र के साथ बड़े ही धूमधाम से की थी जिसमें करीब आठ लाख रुपए का दहेज दिया गया था.

आरोप के मुताबिक उसके ससुराल वाले इसके अतिरिक्त उसे एक मोटर साइकिल और डेढ़ लाख रुपए नकद देने की मांग करते थे. मांग पूरी न होने पर उन लोगों ने मिलकर उसे जहर खिलाकर मार डाला. उस समय प्रीति सात माह की गर्भवती थी. एडीजीसी भगत सिंह ने बताया कि आरोपी ससुर वीरेंद्र सिंह की सुनवाई के दौरान ही मौत हो गई थी. पति पहले से ही जेल में बंद है.