उत्तराखंड: IIT रुड़की ने तैयार किया स्वास्थ्य कर्मियों के लिए फेस शील्ड

IIT रुड़की ने स्पेक्टेकल डिजाइन का फेस शील्ड बनाया है. इस सुरक्षा कवच का इस्तेमाल AIIMS ऋषिकेश में हेल्थकेयर पेशेवरों के  लिए इस्तेमाल किया जा सकता है. इस फेस शील्ड की लागत में केवल 45 रुपये की लागत आई है. 

उत्तराखंड: IIT रुड़की ने तैयार किया स्वास्थ्य कर्मियों के लिए फेस शील्ड
फेस शील्ड

रुड़की: Covid19 से बचाव के लिए आईआईटी रुड़की ने कम लागत वाला फेस शील्ड बनाया है. इसका उपयोग AIIMS ऋषिकेश में हेल्थकेयर पेशेवरों के लिए किया जाएगा. कोविड -19 से फ्रंटलाइन सुरक्षा के लिए कम लागत वाला ये फेस शील्ड का फ्रेम 3-डी प्रिंटेड है. सुरक्षा के मद्देनजर कोविड-19 रोगियों के वार्ड में प्रवेश करते समय स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा अन्य सुरक्षा उपकरणों के साथ ही इस शील्ड का उपयोग भी किया जा सकता है. 

ये भी पढ़ें- कोरोना वॉरियर्स पर हो रहे हमले की देवबंद दारुल उलूम ने की निंदा, कही ये बात

बता दें कि सुरक्षा कवच का डिजाइन स्पेक्टेकल के प्रकार का है और इस शील्ड को बदलना बहुत आसान है, क्योंकि पारदर्शी शीट पुन: उपयोग में आने वाली फ्रेम से बंधी नहीं होती है. इस शीट की लागत केवल 5 रुपये है. प्रति शील्ड की निर्माण लागत लगभग 45 रुपये हैं. बड़े पैमाने पर निर्माण करने पर प्रति शील्ड लागत केवल 25 रुपये आएगी. 

प्रो.रवि कांत AIIMS ऋषिकेश ने बताया कि इस शील्ड को आईआईटी रुड़की के 'री थिंक! द टिंकरिंग लैब' में बनाया गया है. टिंकरिंग लैब आईआईटी रुड़की के छात्रों के लिए एक तकनीकी सुविधा है. टिंकरिंग लैब छात्रों को कुछ नया और बेहतर करने के लिए एक मंच प्रदान करने के साथ ही उनके बीच सरल भाव पैदा करता है. यह नवाचार, प्रयोग, कल्पनाशीलता और अन्य प्रकार की रचनात्मकताओं को बढ़ावा देता है. 

ये भी पढ़ें-जुम्मे की नमाज को लेकर नोएडा पुलिस अलर्ट, ड्रोन से रखी जा रही मस्जिद पर नजर

आईआईटी रुड़की के टिंकरिंग लैब के समन्वयक, प्रो. अक्षय द्विवेदी ने कहा, "यह फेस शील्ड उन सभी स्वास्थ्य कर्मियों के लिए हमारी ओर से एक छोटी-सी भेंट है, जो मानवजाति के कल्याण के लिए दिन-रात काम कर रहे हैं. हम कोविड-19 रोगियों की देखभाल में जुटे स्वास्थ्य कर्मियों और उनके अथक प्रयासों की सराहना करते हैं. मुझे यकीन है कि ये फेस शील्ड बीमारी के संचरण जोखिम को कम करने में मदद करेंगे और इन कर्मियों को स्वास्थ्य संबंधी खतरे से सुरक्षित रखेंगे.

Watch LIVE TV-