यूपी की जमीन पर 'दिल्लीवासियों' का अवैध कब्जा, आरोप- पहले मज़ार बनाई फिर बसा ली बस्ती

इस मामले में यूपी सरकार में जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह का कहना है कि जिन जमीनों पर कब्जा हो चुका है उनको भी खाली करने का प्रयास जारी है. साथ ही भविष्य में कोई कब्जा ना हो सके, इसके लिए भी पूरी योजना बना ली गई है. 

यूपी की जमीन पर 'दिल्लीवासियों' का अवैध कब्जा, आरोप- पहले मज़ार बनाई फिर बसा ली बस्ती

नोएडा: नोएडा से सटे कालिंदी कुंज स्थित सिंचाई विभाग की जमीन पर अवैध रूप से कब्जे का मामला सामने आया है. तकरीबन 200 करोड़ से अधिक कीमत की जमीन पर कब्जा किया गया है. स्थानीय लोगों ने बताया कि पहले यहां एक मज़ार बनाई गई फिर इसकी आड़ में अवैध बस्ती बसा ली गई. इस मामले में जल शक्ति मंत्री का कहना है कि पूरी जमीन की मैपिंग करा ली गई है, नक्शा और पत्र तैयार करके दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर से इस मामले में बातचीत की जा चुकी है. जल्द जमीन से अवैध कब्जा हटाया जाएगा. हम अपनी एक-एक इंच जमीन लेकर रहेंगे.

दरअसल, कालिंदी कुंज इलाके के पास गौतमबुद्ध नगर प्रशासन की जमीन है, जो उत्तर प्रदेश सिंचाई विभाग की है. इस जमीन पर अवैध बस्ती बसाई गई है. हैरत की बात यह है कि बस्तीवालों को बाकायदा सभी सरकारी सुविधाएं भी मिल रही हैं. कई आरडब्ल्यूए दिल्ली पुलिस से इस अवैध बस्ती को हटाने के लिए गुहार लगा चुके हैं, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई. उत्तर प्रदेश सिंचाई विभाग की जिस जमीन पर अवैध कब्जा है वो करीब 5.2 एकड़ जमीन है.

न रुकेगी, न दबेगी, अफसर को देनी होगी जानकारी, बस, आपको पता हो RTI, जानिए इसका प्रोसेस

आसपास के स्थानीय लोगों ने लगाए आरोप
स्थानीय लोगों का आरोप है कि सिंचाई विभाग की इस जमीन पर पहले मजार बनाई गयी है. इसके बाद इसके पीछे एक-एक करके लोगों को बसाया. धीरे-धीरे यहां एक बस्ती बन गई. स्थानीय लोगों का आरोप है कि यूपी सिंचाई विभाग के आगरा कैनाल की जमीन पर ओखला विधायक अमानतुल्लाह खान ने योजनाबद्ध तरीके से बसाया है. लोगों का यह भी आरोप है कि यहां अवैध तरीके से रह रहे रोहिंग्या पहले कालिंदी-कुंज में एक मुस्लिम नेता के खाली प्लॉट पर रह रहे थे. यहां पहले साजिश के तहत झुग्गियों में आग लगाई गई. इसके बाद इन लोगों को दिल्ली से यहां लाकर अवैध तरीके से बसा दिया गया.

दिल्ली सरकार और लेफ्टिनेंट गवर्नर हो गई बात- जल शक्ति मंत्री
इस मामले में यूपी सरकार में जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह का कहना है कि जिन जमीनों पर कब्जा हो चुका है उनको भी खाली करने का प्रयास जारी है. साथ ही भविष्य में कोई कब्जा ना हो सके, इसके लिए भी पूरी योजना बना ली गई है. नोएडा वाली पूरी जमीन की मैपिंग करा ली गई है, नक्शा और पत्र तैयार है. सीएम योगी और मैंने खुद भी दिल्ली केलेफ्टिनेंट गवर्नर से इस मामले में बातचीत की है. जल्दी उनसे मुलाकात भी कर लूंगा. 

UP Panchayat Chunav: तारीखों को लेकर यूपी पंचायती राजमंत्री ने खत्म किया सस्पेंस

'एक-एक इंच जमीन वापस लेंगे'
दिल्ली सरकार पर निशाना साधते हुए जल शक्ति मंत्री ने कहा केजरीवाल और उनसे जुड़े लोगों के चलते बहुत सी दिक्कतें हुई हैं. लेकिन हम जल्दी लेफ्टिनेंट गवर्नर से मिलकर अपनी बात रखेंगे और पूरी तरह से अपनी जमीन को बचाएंगे. एक-एक इंच जमीन की रक्षा करना हमारा काम है. दिल्ली सरकार के कारण बहुत सी जमीनों पर पहले भी कब्जा हुआ. 

WATCH LIVE TV