close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

यूपी में अंतर्राज्यीय बबुली कोल डाकू गैंग पूर्णतया समाप्त'

डीआईजी कुमार ने कहा कि 'डकैत सोहन कोल और संजय कोल के बयानों की पुलिस गंभीरता से पड़ताल कर रही है. दोनों डकैतों ने संरक्षण देने वाले कई सफेदपोश लोगों के नाम गिनाए हैं. पुलिस इन नामों पर भी गहनता से जांच कर रही है. पुलिस उन्हीं पर कार्यवाही करेगी, जो आपराधिक दृष्टि से डकैतों को संरक्षण देते रहे होंगे.'

यूपी में अंतर्राज्यीय बबुली कोल डाकू गैंग पूर्णतया समाप्त'
प्रतीकात्मक फोटो.

बांदा: उत्तर प्रदेश में चित्रकूटधाम परिक्षेत्र बांदा के पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआईजी) दीपक कुमार ने बुधवार को दावा किया कि 'अब अंतर्राज्यीय बबुली कोल गैंग पूर्णतया समाप्त हो गया है. उस गैंग के सभी सूचीबद्ध डकैत मारे या पकड़े जा चुके हैं.' डीआईजी दीपक कुमार ने बुधवार को संवाददाताओं से बातचीत करते हुए दावा किया कि 'चित्रकूट जिले के पाठा के जंगलों में आतंक का पर्याय रहे अंतर्राज्यीय बबुली कोल गैंग (आईएस-262) अब पूर्णतया समाप्त हो गया है. उस गैंग के सभी सूचीबद्ध डकैत मारे या पकड़े जा चुके हैं.

उन्होंने कहा कि गिरफ्तार डकैत सोहन और संजय कोल ने पुलिस हिरासत में कई सफेदपोश लोगों के नाम उजागर किए हैं. इनकी पड़ताल की जा रही है.

उन्होंने बताया कि सोहन कोल की निशानदेही पर बरामद सेमी ऑटोमैटिक राइफलें (मेड इन अमरीका) बरामद होने से डकैतों की प्रहार की क्षमता भी नष्ट हो गयी है. यह वही हथियार हैं, जो ददुआ ठोकिया और रागिया के बाद बबुली कोल तक पहुंचे थे.'

डीआईजी कुमार ने कहा कि 'डकैत सोहन कोल और संजय कोल के बयानों की पुलिस गंभीरता से पड़ताल कर रही है. दोनों डकैतों ने संरक्षण देने वाले कई सफेदपोश लोगों के नाम गिनाए हैं. पुलिस इन नामों पर भी गहनता से जांच कर रही है. पुलिस उन्हीं पर कार्यवाही करेगी, जो आपराधिक दृष्टि से डकैतों को संरक्षण देते रहे होंगे.'

गौरतलब है कि बबुली कोल गैंग के एक-एक लाख रुपये के दो इनामी डकैत सोहन और संजय कोल की गिरफ्तारी पर चित्रकूट पुलिस को शाबाशी देते हुए प्रदेश के गृह सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने एक लाख रुपये अतिरिक्त (डकैतों पर घोषित इनाम से अलग) इनाम देने की घोषणा की है.