close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

घोड़ों की शक्तिवर्धक दवाइयों के नाम पर कर रहा था ठगी, साइबर सेल ने गुरुग्राम से किया अरेस्ट

आरोपी लोगों को कम पैसे में अधिक मुनाफा का लालच देकर लोगों को बिज़नेस में जोड़ता था. फिर लाखों की ठगी कर लेता था.

घोड़ों की शक्तिवर्धक दवाइयों के नाम पर कर रहा था ठगी, साइबर सेल ने गुरुग्राम से किया अरेस्ट
पकड़ा गया आरोपी एंड्र्यू डेनियल नाइजीरिया का रहने वाला है. आरोपी बिजनेस पार्टनर बनाकर लोगों को अपने जाल से फंसता था.

आगराः अगर आपके पास भी किसी विदेशी नागरिक के द्वारा कम कीमत पर अधिक मुनाफा कमाने का कोई लोक लुभावन मेल आता है तो ये खबर आपकी आंख खोलने वाली है. ऐसे कोई भी स्कीम से जुड़ने से पहले जरा सचेत हो जाएं. ताज़ा घटना उत्तर प्रदेश के आगरा की है.आगरा पुलिस की साइबर सेल ने इंटरनेशनल साइबर ठग को हरियाणा के गुरुग्राम से अरेस्ट किया है. 

पकड़ा गया आरोपी एंड्र्यू डेनियल नाइजीरिया का रहने वाला है. आरोपी बिजनेस पार्टनर बनाकर लोगों को अपने जाल से फंसता था. आरोपी लोगों को कम पैसे में अधिक मुनाफा का लालच देकर लोगों को बिज़नेस में जोड़ता था. फिर लाखों की ठगी कर लेता था. आगरा पुलिस पूछताछ कर ये पता लगाने में जुटी है एंड्र्यू डेनिएल ने हिंदुस्तान में कितने लोगों अपने ठगी का शिकार बनाया है. 

एंड्र्यू के बारे में आगरा पुलिस को जानकारी तब मिली जब अवध नारायण त्रिपाठी नाम के एक शख्स ने 6 अगस्त 2018 को हरि पर्वत थाने में शिकायत दी. उनके पास एक मेल आया था. मेल डॉक्टर ऐडयों का था जो एक अमेरिकी नागरिक हैं. ऐडयों ने अवध नारायण को बिजनेस पार्ट्नर बनने का अनुरोध किया. बिजनेस  घोड़े की शक्ति वर्धक दावा के सप्लाई का था. ऐडयों ने बताया कि होर्स राइडिंग क्लब में घोड़ों को दी जाने वाली शक्ति वर्धक दवाइयां मुंबई में कम कीमत पर मिलती है. और ये दवाइयां अमेरिका और जर्मनी में ज्यादा कीमत में मिलता हैं. 

मेल में ये बताया कि ये दवाइयां मुंबई की पूजा इंटरप्राइजेज और अमृत इंटरप्राइजेज में मिलती है और इन्हें कुरियर के जरिये मंगवाने के लिए कहा. जिसके बाद अवध नारायण ने यहां से एक शीशी दवाई मंगाई और एक विदेशी नागरिक इनके घर आया एक शीशी दवाई के बदले 1 लाख रुपये दिए. इसके बाद अधिक सप्लाई का ऑर्डर दे दिए. आर्डर भेजने के लिए अवध नारायण ने 30,22,836 रुपये इन कंपनी के एकाउंट्स में डाल दिये. फिर ना दवाइयां आई और ना किसी ने फोन उठाया.

अवध नारायण को अहसास हो चुका था कि उनके साथ एक बड़ा फ्रॉड हो चुका है. इस मामले से जब आगरा की साइबर सेल ने जांच की तो पता चला कि ये मेल एंड्र्यू डेनियल नाम के एक शख्स ने किया था जो गरुग्राम के डीएलएफ में किराए के मकान में रहकर इस गोरखधंधे को अंजाम दे रहा था. इसके पास से पुलिस को बल्क में भेजे गए मेल ओर मैसेज के कंटेंट मिले है तो पासपोर्ट एक लैपटॉप ओर मोबाइल फ़ोन भी बरामद हुआ है  जांच में ये भी पता चला है कि इसका वीसा काफी पहले एक्सपायर हो चुका है. फिलहाल इससे पूछताछ चल रही है.