close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सुप्रीम कोर्ट के आदेश को ठेंगा दिखाने के मामले में गौतम बुद्ध नगर के जेल सुपरिटेंडेंट को राहत नहीं

सुप्रीम कोर्ट यूपी के एक आपराधिक मामले की सुनवाई करते हुए आरोपी को जमानत देने से इनकार कर दिया था, लेकिन सुप्रीम कोर्ट के आदेश देने के बावजूद जेल सुपरिटेंडेंट ने आरोपी को जेल से रिहा कर दिया था.

सुप्रीम कोर्ट के आदेश को ठेंगा दिखाने के मामले में गौतम बुद्ध नगर के जेल सुपरिटेंडेंट को राहत नहीं
फाइल फोटो.

नोएडा: गौतम बुद्ध नगर के जेल सुपरिटेंडेंटअवमानना के मामले में सुप्रीम कोर्ट में पेश हुए. सुप्रीम कोर्ट ने आरोपी को रिहा करने पर नाराजगी जताई. कोर्ट ने कहा कि वह मामले की सुनवाई करेगा और देखेगा की उसके आदेश का पालन क्यों नहीं हुआ. सुनवाई के दौरान कोर्ट में जेल का राजिस्टर दिखाया गया और बताया गया कि मजिस्ट्रेट उस दिन चले गए थे. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हो सकता है मजिस्ट्रेट को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बारे में जानकारी ना रही हो. सुप्रीम कोर्ट ने टिप्पणी करते हुए कहा कि अगर कल किसी जेलर के पास मजिस्ट्रेट जाए और किसी को रिहा करने को कहे तो क्या होगा? सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर ज़रूरत पड़ी तो इस मामले में जांच के आदेश भी देंगें. मामले की सुनवाई नवंबर में होगी.

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने 18 सितंबर को नोएडा जेल सुपरिटेंडेंट को आज पेश होने का आदेश दिया था. नोएडा जेल सुपरिटेंडेंट के खिलाफ दाखिल अवमानना के मामले में सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने अहम आदेश दिया था. दरअसल  सुप्रीम कोर्ट यूपी के एक आपराधिक मामले की सुनवाई करते हुए आरोपी को जमानत देने से इनकार कर दिया था, लेकिन सुप्रीम कोर्ट के आदेश देने के बावजूद जेल सुपरिटेंडेंट ने आरोपी को जेल से रिहा कर दिया, जिसके बाद नोएडा जेल सुपरिटेंडेंट के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अवमानना याचिका दाखिल की गई थी.

(महेश गुप्ता)