close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कमलेश तिवारी हत्याकांड: ATS के हत्थे चढ़ा हत्यारों का एक और मददगार, गिरफ्तार

कामरान पर हत्या (Murder) के आरोपियों को नेपाल (Nepal) ले जाने का आरोप है. पुलिस के मुताबिक, कामरान, नावेद की ट्रेवल एजेंसी में काम करता है. 

कमलेश तिवारी हत्याकांड: ATS के हत्थे चढ़ा हत्यारों का एक और मददगार, गिरफ्तार
लखनऊ में 18 अक्टूबर को दिन दहाड़े हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की हत्या कर दी गई थी.

बरेली: कमलेश तिवारी हत्याकांड (Kamlesh Tiwari murder case) में यूपी पुलिस (UP Police) ने एक और गिरफ्तारी की है. पुलिस ने आरोपी नावेद के साथी कामरान को बरेली (Bareilly) से गिरफ्तार किया है. कामरान पर हत्या (Murder) के आरोपियों को नेपाल (Nepal) ले जाने का आरोप है. पुलिस के मुताबिक, कामरान, नावेद की ट्रेवल एजेंसी में काम करता है. 

इससे पहले बरेली से गिरफ्तार नावेद और मौलाना सैय्यद कैफी अली दोनों पर ही आरोपियों को पनाह देने और इलाज करवाने में मदद का आरोप है. नावेद पर आरोप है कि उसने मौलाना कैफ़ी के निर्देश पर दोनों को बरेली में रुकवाया उसके बाद नेपाल बॉर्डर तक पहुंचने में मदद की थी. 

पूछताछ के दौरान ही कामरान का नाम सामने आया था, जिसके बाद उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. जानकारी के मुताबिक, हत्या के आरोपियों को कामरान ही नेपाल लेकर गया था. 

इससे पहले 26 अक्टूबर को यूपी पुलिस ने हत्या आरोपियों के तीन मददगारों को गिरफ्तार किया है. मदद करने वाले बरेली के वकील मो. नावेद और लखीमपुर के पलिया निवासी रईस और आसिफ को पूछताछ के बाद पुलिस ने गिरफ्तार किया था. आरोप है तीनों पर आरोप है कि इन्होंने हत्यारोपियों को छिपाने और भगाने में मदद की थी.

लाइव टीवी देखें

पुलिस के मुताबिक, नावेद ने हत्या के दोनों आरोपियों अशफाक और मोइनुद्दीन को बरेली में दरगाह में रुकवाने से नेपाल बार्डर तक पहुंचाने में मदद की थी. रईस और आसिफ ने नावेद के ही कहने पर दोनों को 10 हजार रुपये की मदद की थी.

आपको बता दें कि लखनऊ में 18 अक्टूबर को दिन दहाड़े हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की हत्या कर दी गई थी. नाका थाना क्षेत्र इलाके में हिन्दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी पर गोलियां दागी गई थीं. वारदात को अंजाम देकर आरोपी फरार हो गए. बताया जा रहा है कि भगवा कपड़े पहने दो हमलावर हाथ में मिठाई के डिब्बा लेकर कार्यालय में घुसे और गोलियां दाग दीं थी.