देर रात खंडहर से आ रही थी बच्चे के रोने की आवाज, लोग पहुंचे तो....

मामला कानपुर के ककवन थाना क्षेत्र स्थित फत्तेपुर गांव का है. 

देर रात खंडहर से आ रही थी बच्चे के रोने की आवाज, लोग पहुंचे तो....
सांकेतिक तस्वीर.

कानपुर: यूपी के कानपुर में मानवता को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है. यहां एक मासूस बच्चे को देररात पीटकर खंडहर में खंभे से बांधकर छोड़ दिया गया. बच्चे के रोने की आवाज सुनकर गांववालों ने पुलिस की मदद से उसे वहां से मुक्त कराया. 

क्या है मामला?
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मामला कानपुर के ककवन थाना क्षेत्र स्थित फत्तेपुर गांव का है. यहां गांव में रहने वाले रामप्रकाश राठौर का बेटा रमन मंगलवार को अपने दोस्त कमल के साथ जामुन तोड़ने गया था. दोनों पत्थर मार कर पेड़ से जामुन तोड़ रहे थे. इसी दौरान रमन ने एक पत्थर फेंका, जो कमल को लग गया. इससे उसका सिर फट गया और खून बहने लगा. 

पहले बेरहमी से पीटा, फिर खंभे से बांध दिया
इस बात की जानकारी होने पर कमल के पिता राजू तुरंत उसे डॉक्टर के पास ले गए. इसके बाद राजू, रमन के घर गया. वहां पहुंचकर उसने  गाली-गलौज शुरू कर दी. उसने इस बात का बदला लेने की धमकी भी दी. इसके बाद मंगलवार देर रात राजू ने रमन को पकड़ लिया और उसे घसीटकर एक खंडहर में ले गया. वहां, उसने रमन को बेहरमी से पीटा, फिर उसे खंभे से बांध दिया. वहीं, घर से गायब होने पर परिजन रमन की तलाश में जुट गए. 

ग्रामीणों ने बचाई जान
इसी दौरान कुछ ग्रामीण उसी रास्ते से गुजर रहे थे. अचानक उन्हें एक बच्चे के रोने की अवाज सुनाई दी. इसके बाद गांववालों ने कुछ और लोगों को बुलाया. जब सभी हिम्मत जुटाकर खंडहर के अंदर गए, तो वहां का नजारा देखकर हैरान रह गए. वहां रमन बेहोशी की हालत में एक खंभे में बंधा हुआ था. उसके शरीर में चोट के निशान थे. वह बुरी तरह डरा हुआ था. वहीं, इस पूरे घटना की जानकारी पुलिस को दी गई. सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने बच्चे को इलाज के लिए हॉस्पिटल में भर्ती कराया. पुलिस के मुताबिक बच्चा अभी डरा हुआ है. उससे पूछताछ की जाएगी. तहरीर मिलने पर जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. 

WATCH LIVE TV