close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कानपुर देहात के हैं शोपियां मुठभेड़ में शहीद जवान रोहित यादव, 2016 में हुई थी शादी

जवान रोहित शोपियां के हंदेव इलाके में गुरुवार (16 मई) को आतंकवादियों से लोहा लेते वक्त यादव बुरी तरह से जख्मी हो गए थे. इस मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए थे.

कानपुर देहात के हैं शोपियां मुठभेड़ में शहीद जवान रोहित यादव, 2016 में हुई थी शादी
शहीद जवान रोहित यादव की फाइल फोटो.

श्रीनगर/कानपुर: जम्मू कश्मीर के शोपियां जिले में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में गंभीर रूप से घायल हुए सेना के जवान की अस्पताल में मौत हो गई.  पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि घायल जवान रोहित कुमार यादव की अस्पताल में मौत हो गई. शोपियां के हंदेव इलाके में गुरुवार (16 मई) को आतंकवादियों से लोहा लेते वक्त यादव बुरी तरह से जख्मी हो गए थे. इस मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए थे.

कानपुर देहात में रहता है शहीद का परिवार
जानकारी के मुताबिक, शहीद हुए रोहित यादव 16 राजपूत के जवान थे और फिलहाल 44वीं राष्ट्रीय रायफल पुलवामा में तैनात थे. शहीद रोहित यादव उत्तर प्रदेश के 
कानपुर देहात जिले के कस्बा डेरापुर के रहने वाले थे. बताया जा रहा है कि साल 2016 में ही रोहित की शादी हुई थी. शहीद के पिता गंगा सिंह भी आर्मी से रिटायर है. जवान के शहीद होने की खबर लगते ही ङर में परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है.  

पत्नी की हालत बिगड़ी
रोहित के घर पर आंसुओं का सैलाब फूट पड़ा. वहीं उनकी पत्नी की हालत बिगड़ गई है. सीएचसी से डॉ. ए के रस्तोगी टीम के साथ शहीद के घर पहुंचे और उनकी पत्नी का चिकित्सीय परीक्षण कर उपचार किया गया. पत्नी रूबी ने जैसे ही रोहित के शहीद होने की खबर सुनी वो बेहोश हो गई. मां विमला देवी का रो-रोकर बुरा हाल है. 

लाइव टीवी देखें

आतंकवादी हमलों की थी योजना
प्रवक्ता ने बताया कि मारे गए आतंकवादियों की पहचान यावर अहमद डार, शकील अहमद डार और इश्तियाक भट्ट के तौर पर की गई है. ये तीनों आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़े थे. उन्होंने बताया कि पुलिस रिकार्ड के अनुसार यावर डार इलाके में अनेक आतंकवादी हमलों की योजना बनाने तथा उन्हें अंजाम देने तथा नागरिकों पर उत्पीड़न की घटनाओं में लिप्त था. वह पिछले वर्ष जैनपोरा पुलिस गार्ड पर आतंकी हमले में भी शामिल था. इस हमले में चार पुलिसकर्मी मारे गए थे.

पुलवामा-शोपियां में हुई थी मुठभेड़
गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा और शोपियां जिले में गुरुवार को हुई दो मुठभेड़ों में छह आतंकवादी मारे गए थे और एक आम नागरिक की भी जान चली गई. इन अभियानों में यादव सहित दो जवान शहीद हो गए हैं.