close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मंत्री कर रहे थे अस्पताल का निरीक्षण, उधर ऑक्सीजन सिलेंडर लिए इलाज के लिए भटक रहे थे परिजन

Kanpur: हैरानी की बात ये है कि कानपुर कार्डियोलॉजी में जहां एक तरफ जहां अस्पताल के अंदर नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना और राज्यमंत्री नीलिमा कटियार जेके कैंसर अस्पताल और कार्डियोलॉजी का निरीक्षण कर रहे थे, वहीं दूसरी तरफ अस्पताल पहुंचे एक मरीज को स्ट्रेचर तक मुहैया नहीं हुआ.

मंत्री कर रहे थे अस्पताल का निरीक्षण, उधर ऑक्सीजन सिलेंडर लिए इलाज के लिए भटक रहे थे परिजन
आरोप है कि पीड़ित मासूम के इलाज के लिए परिवार इधर से उधर भटकता रहा.

कानपुर: सरकार लाख दांवे करें, लेकिन उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में स्वास्थ्य विभाग (Health Department) की हालत कैसी है, ये आए दिन वायरल होती तस्वीरें और वीडियो लोगों की परेशानी को बयां करने के लिए काफी है. इन दिनों कानपुर (Kanpur) से एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसने स्वास्थ्य विभाग की पोल खोल कर रख दी है. वीडियो कानपुर कार्डियोलॉजी का बताया जा रहा है.

कानपुर कार्डियोलॉजी में जहां एक तरफ जहां अस्पताल के अंदर नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना और राज्यमंत्री नीलिमा कटियार जेके कैंसर अस्पताल और कार्डियोलॉजी का निरीक्षण कर रहे थे, वहीं दूसरी तरफ अस्पताल पहुंचे एक मरीज को स्ट्रेचर तक मुहैया नहीं हुआ. जिसकी वजह से वह हाथ में ऑक्सीजन सिलेंडर लिए मासूम को अस्पताल में भर्ती करने की गुहार लगाता रहा.

लाइव टीवी देखें

आरोप है कि वह इलाज के लिए इधर से उधर भटकता रहा, लेकिन किसी के कानों में जूं नहीं रेंगी. अस्पताल वालों ने उसे भर्ती तक नहीं किया. इस मामले की जानकारी जब राज्यमंत्री नीलिमा कटियार दी गई, तो उन्होंने भी मामले की जांच कर कार्रवाई की बात कहकर मामले से पल्ला झांड लिया.