close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अमानवीय... कानपुर में संदिग्ध हालत में मिली छात्रा की लाश, GRP ने शव को फावड़े से उठाया

जीआरपी के वरिष्ठ अधिकारियों ने इस मामले की जांच और सोशल मीडिया पर इस घटना से संबंधित एक वीडियो को पोस्ट किए जाने के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई किए जाने का आश्वासन दिया है.

अमानवीय... कानपुर में संदिग्ध हालत में मिली छात्रा की लाश, GRP ने शव को फावड़े से उठाया
प्रतीकात्मक तस्वीर

कानपुर: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के औरेया जिले में दिल्ली-हावड़ा रेलवे ट्रैक (Delhi-Howrah Railway Track) पर 17 साल की लड़की के क्षत-विक्षत शव को संदिग्ध परिस्थितियों में बरामद किया गया है. कथित तौर पर सोमवार को चलती ट्रेन के आगे आ जाने से लड़की की मौत हो गई है. इससे भी ज्यादा चौंकाने वाली बात यह है कि जीआरपी (सरकारी रेलवे पुलिस) के जवानों ने शव के टुकड़ों को पटरी पर से हटाने के लिए फावड़े का इस्तेमाल किया जिससे शव की हालत और भी ज्यादा बिगड़ गई.

जीआरपी के वरिष्ठ अधिकारियों ने इस मामले की जांच और सोशल मीडिया पर इस घटना से संबंधित एक वीडियो को पोस्ट किए जाने के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई किए जाने का आश्वासन दिया है. मृतका का नाम पूजा यादव बताया जा रहा है, जो दिबियापुर शहर के रानापुर के निवासी मोहन यादव की बेटी है.

बताया जा रहा है कि मृतका 12वीं की छात्रा थी और घर से कोचिंग के लिए निकली थी. स्थानीय लोगों ने ट्रेन से लड़की के कुचलने की सूचना पुलिस को दी थी.

जीआरपी में इंस्पेक्टर अवधेश पाठक ने कहा कि हमें स्थानीय लोगों से पटरी पर पड़े शव की जानकारी मिली.  हम घटनास्थल पर पहुंचे और आईडी कार्ड के आधार पर पीड़िता की पहचान की, शव के पास पड़े स्कूल बैग से हमें उसका आधार कार्ड भी मिला. 

पूजा के परिवारवाले इस घटना को शक की निगाहों से देख रहे हैं. परिजनों का कहना है कि पूजा न तो कभी परेशान थी और न ही निराश थी, तो फिर वह आत्महत्या क्यों करेगी? शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और उसकी मौत के सही कारणों का पता लगाने के लिए जांच शुरू कर दी गई है.

लाइव टीवी देखें

इस घटना को 1 नवंबर को हुई वारदात के काफी करीब पाया गया, जहां सरस्वती विद्या मंदिर की एक छात्रा के शव को इसी जगह पर रहस्यमयी परिस्थितियों में पाया गया था. जब यह हादसा हुआ तब वह भी अपने घर से कोचिंग क्लास के लिए निकली हुई थी.