कानपुर: दबंगों की पिटाई से घायल युवक की इलाज के दौरान मौत, इलाके में तनाव

घटना शिवराजपुर थाना क्षेत्र के बर्राजपुर की है. जहां रहने वाले एहसान फारूखी का क्षेत्रीय दबंगो से विवाद हो गया. जिसके बाद दबंगों ने उसे जमकर पीटा. जिसके बाद घायल एहसान को परिजनों ने अस्पताल में भर्ती कराया. इलाज के दौरान एहसान की मौत हो गई.

कानपुर: दबंगों की पिटाई से घायल युवक की इलाज के दौरान मौत, इलाके में तनाव
प्रतीकात्मक

कानपुर: कानपुर में दबंगों की पिटाई से घायल युवक की इलाज के दौरान मौत हो गई. 10 जून को हुई युवक की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है. वहीं युवक की मौत की खबर से क्षेत्र में तनाव व्याप्त हो गया. जिसके चलते क्षेत्र में भारी पुलिस बल तैनात किया गया. बवाल की आशंका के चलते भारी पुलिसबल की मौजूदगी में मृतक का अंतिम संस्कार हुआ.

 इलाज के दौरान एहसान की मौत 

घटना शिवराजपुर थाना क्षेत्र के बर्राजपुर की है. जहां रहने वाले एहसान फारूखी का क्षेत्रीय दबंगो से विवाद हो गया. जिसके बाद दबंगों ने उसे जमकर पीटा. जिसके बाद घायल एहसान को परिजनों ने अस्पताल में भर्ती कराया. इलाज के दौरान एहसान की मौत हो गई. एहसान के परिजनों ने 10 जून को शिवराजपुर थाने में अभिषेक सिंह उर्फ टोनी ठाकुर औऱ उसके दस दोस्तों पर मामला दर्ज कराया. जिसमें उन्होंने कहा कि एहसान का अपहरण करने के बाद आरोपियों ने उसे बेरहमी से पीटा और मरणासन्न कर करके छोड़ा. वहीं तीन दिन बाद मामले में पुलिस ने आरोपी पक्ष से भी मामला दर्ज कर लिया. 

बालिग युगल को राहत, हाईकोर्ट ने कहा- 'हम लिव-इन रिलेशन के खिलाफ नहीं'

कई धाराओं में केस दर्ज

अभिषेक सिंह उर्फ टोनी ठाकुर ने एहसान और उसके साथियो द्वारा हमला कर मारपीट करने की बात कही. अभिषेक ने अपनी तहरीर में लिखा कि एहसान ने उसे जान से मारने के लिए उस पर फायरिंग की. जिसके बाद बाबा ऑटो की दुकान में लोगों ने उसे पकड़ने का प्रयास किया जबकि वह भागने में सफल रहा. इस पर पुलिस ने एहसान व उसके साथियों पर जान से मारने के प्रयास सहित कई धाराओं में मामला दर्ज कर लिया. 

एहसान के परिजनों का कहना है कि वह बिरयानी खाने के लिए निकला था. बिरयानी की दुकान में एहसान का विवाद क्षेत्रीय दबंग प्रधानपुत्र अभिषेक उर्फ टोनी ठाकुर से हो गया. अभिषेक के साथियों के दौड़ाने पर वह बाबा ऑटो की दुकान मे घुसने लगा. जहां इन लोगों ने उसे घेर लिया और बेरहमी से पिटाई कर दी. उसके बाद वह उसे कार में डाल कर ले गए और मरणासन्न करके छोड़ गए. वहीं इलाज के दौरान एहसान की मौत हो जाने के बाद क्षेत्र में तनाव को देखते हुए पुलिस बल तैनात कर दिया गया. 

पुलिस की मौजूदगी में एहसान को सुपुर्दे खाक किया गया. मीडिया के सवालों से पुलिस बचती रही और रात 11 बजे वीडियो बयान सोशल मीडिया में वायरल किया. सीओ बिल्हौर राजेश कुमार ने मामले  में उचित कार्रवाई करने की बात कही.

UPSSSC ने जारी किया कृषि प्राविधिक भर्ती परीक्षा 2018 का फाइनल रिजल्ट, 2036 अभ्यर्थी चयनित

WATCH LIVE TV