कानपुर: सावन के पहले दिन शिवालयों में उमड़े भक्त, कोविड नियमों का पालन करते हुए किया जलाभिषेक

कोरोना की तीसरी लहर की सम्भावना के बीच मंदिरों में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन कराना मंदिर और जिला प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती है. 

कानपुर: सावन के पहले दिन शिवालयों में उमड़े भक्त, कोविड नियमों का पालन करते हुए किया जलाभिषेक

श्याम तिवारी/कानपुर: श्रावण मास के पहले दिन शिवालयों में दर्शन को लेकर भक्तों की भीड़ उमड़ी. कोविड नियमों का पालन करते हुए शहर के मरमट में बाबा आनंदेश्वर मंदिर परमट में भक्तों ने जलाभिषेक किया और बम भोले की गूंज सुबह से गूंजती रही. 

मंदिरों में की गईं व्यापक तैयारियां
बता दें, सावन के पहले सोमवार को लेकर कानपुर में मंदिरों में व्यापक तैयारियां की गयी हैं. शहर के प्रमुख मंदिरों में भीड़ को मैनेज करने के लिए भी व्यवस्थाएं की गयी हैं. कोरोना की तीसरी लहर की सम्भावना के बीच मंदिरों में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन कराना मंदिर और जिला प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती है. 

ओलिंपिक में UP के लाल का कमाल: नौकायन के सेमीफाइनल में पहुंचे अरविंद-अर्जुन, पदक की उम्मीद

सोमवार को नहीं मिलेगे गर्भ गृह में प्रवेश 
शहर के परमट में स्थित आनंदेश्वर मंदिर में सावन के सोमवार के दिन भक्त गर्भ गृह में प्रवेश नहीं मिलेगा. शिवलिंग पर जल और दूध चढ़ाने के लिए पनाला लगाया जा रहा है. जिससे गर्भ गृह के बाहर से लोग शिवलिंग पर दूध, दही और जल चढ़ा सकेंगे. वहीं, मंदिर परिसर में एक बार में 50 लोगों को ही प्रवेश दिया जाएगा. 

Video: हिमाचल में भूस्खलन से मौत का तांडव, वीडियो देखकर कांप जाएगी रूह

मंदिर के महंत इच्छा गिरी महाराज ने कहा कि मंदिर आने वाले श्रद्धालू भी कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करें. वही पुलिस और प्रशासन ने भी भीड़ के मैनेजमेंट को लेकर मंदिर के बाहर बैरीकेटिंग्स की व्यवस्था की गई है. वहीं, शहर के जाजमऊ में स्थित सिद्धनाथ मंदिर में भी भक्तों को गर्भगृह में प्रवेश नहीं मिलेगा.

WATCH LIVE TV