close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उत्तराखंड पंचायत चुनाव 2019: पहले चरण का मतदान संपन्न, करीब 60% वोटिंग का अनुमान

Panchayat Elections 2019: पहले चरण में 30 विकास खंडों में वोट डाले गए. करीब 15 लाख मतदाताओं ने उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला मत के रूप में कर दिया है.

अंतिम अपडेट: शनिवार अक्टूबर 5, 2019 - 03:23 PM IST

देहरादून: उत्तराखंड (Uttarakhand) में पंचायत चुनाव (Panchayat Election) के पहले चरण का मतदान शनिवार की शाम को समाप्त हो गया. पहले चरण का मतदान (Voting) सुबह 8 बजे से शुरू हुई थी. पहले चरण में 30 विकास खंडों में वोट डाले गए. प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का पहला चरण संपन्न हो गया है. पहले चरण में  प्रदेश में 60 फ़ीसदी से अधिक मतदान होने का अनुमान है. 4:00 बजे तक 58 फ़ीसदी मतदान हुआ था. राज्य निर्वाचन आयोग रात में करीब 9:00 बजे फाइनल मत प्रतिशत जारी करेगा. प्रदेश के 30 ब्लॉक में पहले चरण में मतदान हुआ है. दूसरे चरण में के लिए 11 अक्टूबर को मतदान होगा. 21 अक्टूबर को नतीजे घोषित होंगे.

 

5 अक्टूबर 2019, 15:32 बजे

राजधानी देहरादून के सोडा सिरौली ग्राम पंचायत 102 साल के बुज़ुर्ग मतदाता ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया. पुलिस जवानों ने बुज़ुर्ग जगतराम जोशी को उनका वोट कास्ट करने में मदद दी. 

5 अक्टूबर 2019, 15:23 बजे

उधम सिंह नगर में रुद्रपुर और गदरपुर ब्लाक में दोपहर बजे तक मतदान 53.8 फीसदी हुआ. 314 बूथों पर मतदान शान्तिपूर्वक जारी है. 

5 अक्टूबर 2019, 14:52 बजे

देहरादून प्रदेश के 12 जिलों में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के पहले चरण के लिए मतदान की प्रक्रिया चल रही है. भारी संख्या में मतदाता अपने घरों से बाहर निकल रहे हैं. वहीं, कई ऐसे युवा मतदाता हैं जो पहली बार मतदान कर रहे हैं.  उनका कहना है कि पहली बार मतदान करने को लेकर काफी उत्साहित हैं. साथ ही क्षेत्र की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए वे मतदान कर रहे हैं.  

5 अक्टूबर 2019, 13:30 बजे

त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन-2019 के प्रथम चरण में दोपहर 12 बजे तक अल्मोड़ा में हवालबाग में 29.82 प्रतिशत, लमगड़ा में 28.19 प्रतिशत, धौलादेवी में 25.98 प्रतिशत और ताकुला में 28.98 प्रतिशत मतदान हुआ है. अब तक कुल मिला 28.22 प्रतिशत मतदान हुआ है. 

5 अक्टूबर 2019, 13:16 बजे

पौड़ी जिले के पांच ब्लॉकों में आज मतदान किया जा रहा है, तो वहीं दूसरी ओर पौड़ी से सटे पाबौ ब्लॉक के मरोड़ा गांव के ग्रामीणों ने पंचायत चुनाव 2019 का बहिष्कार किया है. ग्रामीणों का कहना है कि उन्हें बिना बताए पाबौ ब्लॉक से खिर्सू ब्लॉक में उनकी ग्राम पंचायत को सम्मिलित कर दिया गया है, जिसका वे पुरजोर विरोध करते हैं. उनका कहना है कि उनकी ग्रामसभा पाबौ से नजदीक है, जबकि खिर्सू ब्लॉक उन्हें बहुत दूर पड़ता है. उन्हें बिना संज्ञान में लिए हुए उनकी ग्रामसभा को पाबौ से खिर्सू ब्लॉक में मर्ज कर दिया गया है, जिसके विरोध में पंचायती चुनाव का हिस्सा नहीं बने रहे हैं. उनका कहना है कि इसके बावजूद भी अगर शासन प्रशासन नहीं जागता है तो वे उग्र आंदोलन करने के लिए विवश हो जाएंगे, जिसकी पूरी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी. उनकी मांग है कि उनकी पंचायत को पाबौ ब्लॉक में ही रहने दिया जाए. 

5 अक्टूबर 2019, 12:47 बजे

बागेश्वर के गुरना न्याय पंचायत के कूलारंगचौड़ा गांव के लोगों ने मतदान का बहिष्कार किया है. सड़क की मांग को लेकर ग्रामीणों ने मतदान का बहिष्कार किया है. अभी तक ग्रामीणों को मनाने कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं गया है. 

5 अक्टूबर 2019, 12:42 बजे

देहरादून में दोपहर 12 बजे तक 26 फीसदी मतदान हुआ है. राज्य निर्वाचन आयोग ने मत प्रतिशत जारी किया है. शाम 5 बजे तक मतदान जारी रहेगा. 

5 अक्टूबर 2019, 12:41 बजे

चमोली में त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन के पहले चरण का मतदान शांतिपूर्ण ढंग से मतदान जारी है 12 बजे तक चमोली में 30 प्रतिशत मैदान हो चुका है. जिला निर्वाचन अधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने देवलधार, बैरांगना, मंडल मे बूथों का निरीक्षण किया. वहीं, बागेश्वर में 12 बजे तक 25 प्रतिशत मतदान हुआ है. 

 

5 अक्टूबर 2019, 10:39 बजे

मतदान को लेकर कई जगह ग्रामीणों में नाराजगी भी देखी गयी. ग्रामीणों की शिकायत है कि उनका मतदान सूची से जानबूझ कर नाम हटाया गया है. बागेश्वर विकासखंड में 40 क्षेत्र पंचायत की सीटें हैं, जिनमें 2 निर्विरोध चुने गये हैं.  यहां 38 सीटों पर 133 प्रत्याशियों के बीच मुकाबला होना है. वहीं, जिला पंचायत की 7 सीटें हैं, जिनमें 41 उम्मीदवारों ने दावेदारी की है. बागेश्वर विकासखंड में 182 ग्राम प्रधान की सीट हैं जबकि 28 को निर्विरोध चुना गया है.

5 अक्टूबर 2019, 10:39 बजे

बागेश्वर जिले में छोटी सरकार के लिये मतदान सुबह आठ बजे शुरू हो गया. 185 बूथों पर मतदान स्थलों पर पूरी सुरक्षा के बीच मतदान कराया जा रहा है. बागेश्वर जिले में पहले चरण का मतदान बागेश्वर विकासखंड में किया जा रहा है. सुबह से ही मतदान केन्द्रों पर ग्रामीणों की वोट देने के लिये लंबी लंबी कतारें लग गई हैं. 

5 अक्टूबर 2019, 09:53 बजे

अल्मोड़ा में हवालबाग, लमगड़ा, धौलादेवी और ताकूला में के पोलिंग बूथों में सुबह से ही कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान हो रहा है. सुबह से ही मतदान केंद्रों में वोटरों की लंबी लाइन लगना शुरू हो गया है. जैसे-जैसे दिन बढ़ेगा मतदान में भी तेरी आने की उम्मीद जताई जा रही है. 

5 अक्टूबर 2019, 08:40 बजे

हल्द्वानी में मतदान के बीच हंगामा हो गया. गौलापार नवाडखेड़ा पोलिंग बूथ नम्बर 28 में हंगामे की खबर सामने आ रही है. जानकारी के मुताबिक, जबरन वोट डलवाने को लेकर दो प्रत्याशी आपस में भिड़ गए. 

 

5 अक्टूबर 2019, 07:41 बजे

पंचायत चुनाव के मद्देनजर भारत-नेपाल सीमा सील कर दी गई है. मूनाकोट विकासखंड में आने वाले झूलाघाट के अंतर्राष्ट्रीय पुल को गुरुवार की शाम पांच बजे बंद कर दिया गया था. यह झूला पुल अब मतदान के बाद 5 अक्टूबर की शाम पांच बजे खुलेगा.  

5 अक्टूबर 2019, 07:38 बजे

करीब 15 लाख मतदाता उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे. पहले चरण में जिला पंचायत की 121, क्षेत्र पंचायत के 1022, ग्राम प्रधान के 2 हजार 464 और ग्राम पंचायतों सदस्यों की 18 हजार 406 सीटों पर वोट डाले जाएंगे.

5 अक्टूबर 2019, 07:37 बजे

इनमें देहरादून के डोईवाला और रायपुर ब्लॉक, नैनीताल के हल्द्वानी, रामनगर और भीमताल ब्लॉक, ऊधमसिंह नगर के रूद्रपुर और गदरपुर ब्लॉक, पिथौरागढ़ के बिण, मूनाकोट, कनालीछीना ब्लॉक, उत्तरकाशी के भटवाड़ी और डुंडा ब्लॉक में मतदान होगा.