UP: प्राथमिक शिक्षक संघ का सामूहिक अवकाश का ऐलान, क्या होंगे सीएम योगी परेशान?

योगी सरकार ने प्राइमरी स्कूलों के शिक्षकों के सामूहिक अवकाश से सख्ती से निपटने के लिए कार्ययोजना बना ली है. 

UP: प्राथमिक शिक्षक संघ का सामूहिक अवकाश का ऐलान, क्या होंगे सीएम योगी परेशान?
(फाइल फोटो)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार के सभी प्राइमरी स्कूलों के शिक्षकों ने 21 जनवरी को सामूहिक अवकाश लेकर तालाबंदी का ऐलान किया है. वहीं, प्राथमिक शिक्षक संघ के इस ऐलान के बाद योगी सरकार ने इससे सख्ती से निपटने के आदेश दिए हैं. महानिदेशक स्कूली शिक्षा विजय किरण आनंद ने सभी जिलों को निर्देश दिए हैं कि किसी भी हालत में स्कूल बंद न रहें. बताया जा रहा है कि राज्य सरकार इस मामले पर लगातार नजर बनाए हुए है. गौरतलब है कि प्राइमरी स्कूलों के करीब 5 लाख शिक्षकों ने बेसिक शिक्षा अधिकारियों को एक कॉमन अवकाश के लिए एप्लीकेशन दी है.

क्या हैं शिक्षक संघ की मांगें
शिक्षक संघ स्कूलों में अच्छे इंफ्रास्ट्रक्चर, मैनपॉवर और पेंशन की मांग कर रहा है. शिक्षक संघ का मानना है कि स्कूलों में विद्यार्थियों के लिए जरुरी सुविधाओं की कमी है. वहीं, शिक्षकों के लिए पेंशन स्कीम की भी मांग की जा रही है. गौरतलब है कि प्राइमरी स्कूलों के शिक्षकों ने बीते साल 21 नवंबर को भी लखनऊ में प्रदर्शन किया था. उस समय योगी सरकार से उन्हें इन मांगों के लेकर आश्वासन दिया गया था. 

सख्ती से निपटेगी योगी सरकार
वहीं, योगी सरकार ने प्राइमरी स्कूलों के शिक्षकों के सामूहिक अवकाश से सख्ती से निपटने के लिए कार्ययोजना बना ली है. हर जिले में अधिकारियों को सचेत रहने के निर्देश दिए गए हैं. साथ ही सामूहिक अवकाश के कारण होने वाली समस्याओं से निपटने के उपयुक्त कदम उठाने को कहा गया है. बता दें कि इस दौरान शिक्षामित्रों द्वारा आश्वसन दिया गया है कि वे तालाबंदी नहीं होने देंगे और स्कूलों में पढ़ाई कराएंगे.