लोकसभा चुनाव 2019: यूपी में BSP के पूर्व सांसद और पूर्व विधायक ने थामा कांग्रेस का 'हाथ'

सीतापुर से बीएसपी की सांसद रहीं कैसर जहां और लहरपुर से बीएसपी के पूर्व विधायक जसमीर अंसारी ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की.

लोकसभा चुनाव 2019: यूपी में BSP के पूर्व सांसद और पूर्व विधायक ने थामा कांग्रेस का 'हाथ'
फोटो साभार : @AnnuTandonUnnao

लखनऊ: आगामी लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) से पहले महागठबंधन की सुगबुगाहट के बीच नेताओं की दल-बदल शुरू हो गई है. इसी क्रम में उत्तर प्रदेश से पूर्व बीएसपी सांसद कैसर जहां और पूर्व विधायक जसमीर अंसारी तथा उनके समर्थकों ने सोमवार को कांग्रेस का दामन थाम लिया. यूपी कांग्रेस के प्रवक्ता बृजेन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि सीतापुर से बीएसपी की सांसद रहीं कैसर जहां और लहरपुर से बीएसपी के पूर्व विधायक जसमीर अंसारी और बड़ी संख्या में उनके समर्थकों ने कांग्रेस की नीतियों एवं कार्यक्रमों में आस्था जाहिर करते हुए बीएसपी छोड़ कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की.

सिंह ने बताया कि सदस्यता ग्रहण करने से पहले कैसर जहां और अंसारी ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से नई दिल्ली में मुलाकात की और कांग्रेस को उत्तर प्रदेश में अपनी पूरी ताकत के साथ मजबूत बनाने का संकल्प लिया. इस दौरान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर भी मौजूद थे. कांग्रेस प्रवक्ता ने बताया कि सेवानिवृत्त आईपीएस अधिकारी आफताब अहमद खान और चैम्बर ऑफ कॉमर्स के वाइस चेयरमैन सुरेन्द्र कुमार ने भी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की.

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने पार्टी में शामिल होने वाले सभी लोगों का स्वागत करते हुए कहा कि कांग्रेस हमेशा समाज के दलित, शोषित, वंचित, पीड़ित समाज की लड़ाई लड़ती रही है. केन्द्र की मौजूदा सरकार ने देश के युवाओं, किसानों के साथ जो विश्वासघात किया है, पार्टी आगामी लोकसभा चुनाव में उस लड़ाई को न केवल मजबूती से लड़ेगी, बल्कि उसे जीतेगी भी. 

उन्होंने कहा कि जनता के समर्थन से केन्द्र में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में एक ऐसी सरकार का गठन किया जायेगा, जिसमें युवाओं, किसानों, मजदूरों, व्यापारियों के हितों की रक्षा सुनिश्चित की जा सके और एक ऐसे समाज का निर्माण हो सके, जिसमें समाज का हर तबका खुद को को सम्मानित और गौरवान्वित महसूस कर सके.

सूत्रों की मानें तो, कांग्रेस किसी भी प्रकार से लोकसभा चुनाव 2019 में कमजोर नहीं पड़ना चाहती है. कांग्रेस ने अपनी इसी रणनीति के चलते सर्वाधिक लोकसभा सीटों वाले राज्य उत्तर प्रदेश में प्रियंका गांधी वाड्रा को महासचिव और पूर्वी यूपी का प्रभारी बनाया है. दरअसल, उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (एसपी) और बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) ने लोकसभा चुनाव 2019 के लिए आपस में गठबंधन कर लिया है. इस गठबंधन में दोनों ही पार्टियों ने कांग्रेस को जगह नहीं दी थी. इसके बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था कि पार्टी उत्तर प्रदेश में अपने दम पर चुनाव लड़ेगी. कांग्रेस यूपी में लोगों को चौंका देगी.

(इनपुट भाषा से)