close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लखनऊ: आउटर रिंगरोड की 30 मीटर सर्विस लेन धंसी, सड़क के नीचे मौजूद थी पाइपलाइन

आउटर रिंगरोड को बनाने में नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया और ठेकेदार कंपनी की लापरवाही के चलते जमीन के नीचे मौजूद पाइपलाइन को बिना हटाए ही ठेकेदार कंपनी ने सड़क बना दी थी. 

 लखनऊ: आउटर रिंगरोड की 30 मीटर सर्विस लेन धंसी, सड़क के नीचे मौजूद थी पाइपलाइन
सर्विस लेन को दोबारा सही करने में 48 घंटे का वक्त लगेगा.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बुधवार से हो रही बारिश ने मौसम तो सुहावना कर दिया है. गुरुवार सुबह से भी तेज बारिश का दौर जारी है. तेज बारिश की वजह से जगह-जगह पानी भर गया है. वहीं, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के ड्रीम प्रोजेक्ट आउटर रिंगरोड को बनाने में नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) और ठेकेदार कंपनी की लापरवाही की वजह से ऑउटर रिंगरोड की 30 मीटर सर्विस लेन धंस गई है. इस कारण सर्विस लेन पर ट्रैफिक ठप हो गया, जिससे लोगों को खासा दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. 

एनएचएआई और ठेकेदारों की लापरवाही
जानकारी के मुताबिक, आउटर रिंगरोड को बनाने में नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया और ठेकेदार कंपनी की लापरवाही के चलते जमीन के नीचे मौजूद पाइपलाइन को बिना हटाए ही ठेकेदार कंपनी ने सड़क बना दी. आउटर रिंग रोड रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के ड्रीम प्रोजेक्ट में शुमार है.

48 घंटों के लिए ट्रैफिक बंद
घटना बुधवार शाम की बताई जा रहा है. सर्विस लेन को दोबारा सही करने में 48 घंटे का वक्त लगेगा. अधिकारियों का कहना है कि ठेकेदार कंपनी को सर्विस लेन दोबारा से बनाने के लिए कहा गया है. माना जा रहा है कि इसे करीब 48 घंटे में सही कर दोबारा ट्रैफिक शुरू कर दिया जाएगा.

लाइव टीवी देखें

कैसे की गई ऐसी लापरवाही
सड़क धंसने की वजह एक पुरानी पाइपलाइन बताई जा रही है. अधिकारियों का कहना है कि आस-पास किसी आबादी के मौजूद नहीं होने से पाइपलाइन के नीचे डाले जाने की उम्मीद नहीं थी. ठेकेदार कंपनी ने भी बिना जांच किए पाइपलाइन के ऊपर ही सुरक्षा दीवार और सर्विस लेन बना दी. पाइपलाइन की वजह से मिट्टी का कटान हुआ, जिससे सड़क धंस गई.