"मुजाहिदों को ना छोड़ने पर उड़ा देंगे मंदिर और RSS कार्यालय", 14 अगस्त तक का दिया समय

पत्र में कहा गया है कि 'अगर 14 अगस्त तक मुजाहिदों को रिहा नहीं किया गया तो उसके बाद अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहो'

"मुजाहिदों को ना छोड़ने पर उड़ा देंगे मंदिर और RSS कार्यालय", 14 अगस्त तक का दिया समय

विशाल सिंह/लखनऊ: राजधानी लखनऊ के बड़े मंदिर और RSS कार्यालय को लेकर धमकी दी गई है. मंदिरों और RSS कार्यालय को लेकर धमकी भरा पत्र मिला है. इस पत्र को रजिस्टर्ड डाक से अलीगंज हनुमान मंदिर (Aliganj Hanuman Mandir) में भेजा गया है. पत्र में कहा गया है कि 'अगर 14 अगस्त तक मुजाहिदों को रिहा नहीं किया गया तो उसके बाद अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहो'.

पत्र में लिखा है कि 10 लोगों की सूची तैयार हैं.जिसमें कुछ RSS के लोग व बड़े पदाधिकारी शामिल है. पत्र की भाषा बेहद संवेदनशील और भड़काऊ है. इसमें महिलाओं के लिए भी अपशब्द लिखे गए हैं. पत्र जिस लिफाफे में आया, उस पर त्रिवेणीनगर के उप डाकघर की मुहर लगी है. पत्र भेजने वाले के नाम व पते के स्थान पर जोगिंदर सिंह, खदरा मदेयगंज लिखा हुआ है.

"15 अगस्त को अंजाम भुगतने को तैयार रहें"
अलीगंज स्थित नए हनुमान मंदिर के पुजारी विजय शंकर दीक्षित ने ज़ी मीडिया से खास बातचीत में बताया कि धमकी भरा पत्र रजिस्टर्ड डाक से भेजा गया है. जो मंदिर प्रबंधक के नाम से है. इसमें कहा गया कि जिन मुजाहिदों को गिरफ्तार किया गया है, उन्हें जल्द छोड़ दिया जाए नहीं तो 15 अगस्त को अंजाम भुगतने को तैयार रहें. इसके साथ ही उनका कहना है कि धर्म को मिटाने की सोचने वालों का अंजाम बुरा होगा.

हनुमान मंदिर के पुजारी ने की गिरफ्तारी की मांग 
हनुमान मंदिर के पुजारी की सरकार से अपील है कि किसी भी आतंकी को ना छोड़ा जाए. फिलहाल मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है. इसके साथ ही पुजारी ने मांग की है कि इस पूरे मामले के पीछे साजिश रचने वालों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की जाए.

 

 

Friendship Day 2021: कोविड 19 में कैसे मनाएं फ्रेंडशिप डे, जानें 5 Different Ideas

 

WATCH LIVE TV